गोरखपुर, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मन्दिर में शुक्रवार की सुबह दो सौ फरियादियों से मिले। उनकी समस्याएं सुनकर निस्तारण का भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री करीब 45 मिनट तक जनता दरबार में रहे।
सुबह परंपरागत रूप से पूजा अर्चना करने के बाद मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर के कार्यालय में पहुंचे। पहले से ही बैठे फरियादियों को एक-एक कर मुख्यमंत्री से मिलवाया गया। मुख्यमंत्री से मिलकर लोगों ने अपनी समस्याएं बताईं। योगी सभी फरियादियों से मिले और उनकी बातें सुनीं। उसके बाद मुख्‍यमंत्री अलग से कुछ अन्‍य लोगों से मुलाकात की।
जालान परिवार से मिले योगी, जताई संवेदना
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार दोपहर दस नंबर बोरिंग गोरखनाथ स्थित जालान परिवार के आवास पहुंचे। उन्होंने परिवार के सदस्यों से मुलाकात कर शोक संवेदना जताई। ओमप्रकाश जालान, अशोक जालान और विनोद जालान की मां सावित्री जालान पत्नी स्व. जुगुल किशोर जालान का 15 मार्च को निधन हो गया था।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जुगुल किशोर जालान ने जो समाज सेवा की लौ जलाई थी, सावित्री देवी ने उसे बखूबी आगे बढ़ाया। जालान परिवार ने पूर्वांचल में उद्योगों को आगे बढ़ाकर विकास किया और युवाओं को रोजगार दिया।
मुख्यमंत्री के साथ केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ल, कालीबाड़ी के महंत रविंद्र दास भी हैं। इस दौरान अनुज जालान, तनुज जालान, अंकुर जालान, निखिल जालान, संचित जालान आदि मौजूद रहे। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने बालापार में बन रहे मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया और जरूरी निर्देश दिए।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस