गोरखपुर, (जेएनएन)। यात्रियों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए ट्रेन की बोगियों में से सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। यह निर्देश रेलवे बोर्ड के सदस्य (रोलिंग स्टाक) व भारत सरकार के पदेन सचिव राजेश अग्रवाल ने यांत्रिक कारखाना के अधिकारियों को दिया है।

फायर डिटेक्शन अलार्म सिस्टम भी लगेगा

कारखाना का निरीक्षण करने के बाद बैठक में राजेश अग्रवाल ने कहा कि बोगियों में सुविधा के साथ सुरक्षा प्रदान करना भी हमारा दायित्व है। बोगियों में सीसीटीवी कैमरे के अलावा फायर डिटेक्शन अलार्म सिस्टम, वाटर टैंक लेवल इंडीकेटर और जन संबोधन प्रणाली की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। कारखाना को और समृद्ध बनाने पर बल देते हुए उन्होंने ले-आउट में सुधार के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश भी जारी किया। कारखाना में कोचों की मरम्मत क्षमता को बढ़ाने के साथ ही कोचों की विफलता को शून्य करने का भी सुझाव दिया।

समीक्षा बैठक से पूर्व रेलवे बोर्ड के सदस्य ने यांत्रिक कारखाना के मॉडल रूम, मशीन शॉप, स्मिथ शॉप, ह्वील शॉप और चल रिपेयर शॉप आदि का निरीक्षण किया।

एलएचबी कोच को किया रवाना

इस दौरान उन्होंने उपकरणों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। साथ ही विभिन्न शॉपों की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने इंक्पेशन पिट पर कारखाना में एसएस टू किए गए 20वें एलएचबी कोच को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया। अंत में कारखाना की कार्य प्रणाली से प्रसन्न होकर उन्होंने एक लाख रुपये के पुरस्कार की घोषणा भी की। इस मौके पर पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर एके सिंह और मुख्य कारखाना प्रबंधक एसी बोरा सहित समस्त संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Pradeep Srivastava