गोरखपुर, जेएनएन। बाहुबली अतीक अहमद द्वारा देवरिया जिला कारागार में रियल एस्टेट कारोबारी की हुई पिटाई के मामले की जांच कर रही सीबीआइ की जांच के घेरे में जनपद के कुछ ठेकेदार भी आ सकते हैं। सीबीआइ ने अतीक से मिलने वाले कुछ ठेकेदारों की भी कुंडली खंगालना शुरू कर दी है। सीबीआइ ने संबंधित थाने की पुलिस से ठेकेदार के बारे में विशेष जानकारी व मोबाइल नंबर भी मांगा है। हालांकि देर शाम तक सीबीआइ को ठेकेदारों के बारे में कोई विशेष जानकारी उपलब्ध नहीं हो सकी थी।

ये था मामला

लखनऊ के आलमबाग के विश्वेश्वर नगर निवासी मोहित जायसवाल का अपहरण कर लिया गया। इसके बाद उसकी देवरिया जेल में 26 दिसंबर 2018 को अतीक व उसके गुर्गों द्वारा पिटाई की गई थी। इस मामले की जांच कर रही सीबीआइ बुधवार को जनपद के कुछ ठेकेदारों के बारे में भी जानकारी मांगी। सूत्रों का कहना है कि कुछ ठेकेदार जेल में बंदी के दौरान अतीक से मिलने के लिए जाते थे। सीबीआइ अब उनके बीच के रिश्ते को खंगाल रही है, ऐसा तो नहीं कि अब यह अतीक से मिल कर कारोबार में शामिल हो गए हैं। सीबीआइ द्वारा इस सूचना के मांगने के बाद ठेकेदारों में हड़कंप मच गया है। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस