Move to Jagran APP

Gorakhpur News: गोरखपुर में एसएसपी ने चौकी प्रभारी समेत चार को किया निलंबित, दर्ज कराया केस, मचा हड़कंप

Gorakhpur News 30 मई को जगदीशपुर पुलिस चौकी प्रभारी रमेश कुशवाहा सिपाही अमित यादव व अजय चौहान घर पहुंचे और भाई अजीत के बारे में पूछा। उसके घर पर न होने पर गाड़ी में बैठाकर चौकी पर ले गए। रात में 12 बजे पिटाई करने के साथ ही रुपये न देने पर फर्जी मुकदमे में जेल भेजने की धमकी देने लगे।

By Satish pandey Edited By: Vivek Shukla Published: Sun, 09 Jun 2024 09:47 AM (IST)Updated: Sun, 09 Jun 2024 09:47 AM (IST)
एएसपी/सीओ कैंट की जांच में आरोप की पुष्टि होने पर हुई कार्रवाई

जागरण संवाददाता, गोरखपुर। जगदीशपुर पुलिस चौकी में युवक की पिटाई व वसूली करने के मामले में एम्स थाना पुलिस ने चौकी प्रभारी रमेश कुशवाहा, सिपाही अमित यादव,अजय चौहान व एक दलाल पर मारपीट कर रंगदारी मांगने व भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज किया है।

एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर ने आरोपित पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।एएसपी/सीओ कैंट अंशिका वर्मा इस मामले की विवेचना करेंगी। पुलिसकर्मियों पर हुई कार्रवाई के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा है।

कुसम्ही के रुद्रापुर में रहने वाले विनय शर्मा ने शुक्रवार को पुलिस कार्यालय पहुंचकर एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर को बताया था कि उसके भाई अजीत शर्मा और कुशीनगर जिले के कुबेस्थान क्षेत्र में रहने वाले वशीन्दर सिंह के बीच रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद है।

इसे भी पढ़ें-आगरा में सताएगी लू, सबसे ज्‍यादा गर्म रहा प्रयागराज, जानिए आज कैसा रहेगा यूपी का मौसम

वशीन्दर ने जगदीशपुर पुलिस चौकी पर इस मामले में तहरीर दी है। 30 मई को दोपहर 12 बजे जगदीशपुर पुलिस चौकी प्रभारी रमेश कुशवाहा, सिपाही अमित यादव व अजय चौहान उनके घर पहुंचे और भाई अजीत के बारे में पूछा। उसके घर पर न होने पर गाड़ी में बैठाकर चौकी पर ले गए।

रात में 12 बजे पिटाई करने के साथ ही रुपये न देने पर फर्जी मुकदमे में जेल भेजने की धमकी देने लगे। 10 हजार रुपये वसूलने के बाद 31 मई की शाम को पुलिस चौकी से छोड़ा गया। फिर 40 हजार रुपये और मांगे जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें-10, 12 व 14 जून को निरस्त रहेगी छपरा-मथुरा-छपरा एक्सप्रेस, यहां देखें पूरा शेड्यूल

विनय ने बताया कि पिटाई में गंभीर चोट लगी थी। जिसका उसने एम्स में उपचार कराया। एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर ने एएसपी/सीओ कैंट अंशिका वर्मा को मामले की जांच देने के साथ ही 24 घंटे में रिपोर्ट मांगी थी।सोमवार को जगदीशपुर पुलिस चौकी पर पहुंची सीओ ने आरोपों की जांच की तो मारपीट व रुपये लेने की पुष्टि हुई।

पुलिस चौकी में युवक को ले जाकर पीटने,रुपये लेकर छोड़े जाने के मामले में चौकी प्रभारी व दो सिपाहियों के साथ ही दलाल पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।आरोपित पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। एएसपी/सीओ कैंट मुकदमे की विवेचना कर रही हैं।साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।- डा. गौरव ग्रोवर, एसएसपी


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.