जागरण संवाददाता, टिनिच, बस्ती: गौर थाने के टिनिच पुलिस चौकी क्षेत्र के घुरहूपुर गांव में पूर्व प्रधान व उसके परिवारीजनों पर लाठी-डंडे व धारदार हथियार से हमलाकर घायल कर दिया गया। गंभीर हालत में दो महिलाओं को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पीड़ित पक्ष की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

घुरहूपुर के पूर्व प्रधान अरविद राजभर ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि बुधवार की सुबह वह दरवाजे पर बैठे थे, तभी पास में स्थित खलिहान से बांस की खूंटी काटने की आवाज सुनाई दी। मौके पर गए तो वहां गांव के गया प्रसाद व अन्य मौजूद लोगों को खूंटी काटने से मना किया, क्योंकि हल्का लेखपाल पूर्व में खूंटी वाले भूमि की पैमाइश होने तक कुछ भी करने से मना करके गए थे। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया।

इसके बाद गया प्रसाद, राम प्रसाद, तिलकराम, मुकेश, राजकुमार, दिलीप, परमात्मा, गीता आदि ने लामबंद होकर पूर्व प्रधान अरविद राजभर, राम सूरत, सहदेव, मालती, उर्मिला आदि पर लाठी-डंडे व धारदार हथियार से हमला कर दिया। हमले में मालती और उर्मिला गंभीर चोट आई।

प्रभारी निरीक्षक गौर संजय कुमार ने बताया कि मुकदमा दर्ज किया गया है। घायलों को जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। तहरीर के आधार पर आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। दो वाहनों की टक्कर में चार सब्जी व्यवसायी समेत पांच घायल

जागरण संवाददाता, छावनी, बस्ती: थाना क्षेत्र के केनौना चौराहे पर बुधवार की सुबह 5.30 बजे एक पिकअप और स्कार्पियो में टक्कर हो गई। हादसे में पिकअप सवार चार सब्जी व्यवसायी समेत पांच लोग घायल हुए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस की मदद से घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विक्रमजोत पहुंचाया। वहां हालत गंभीर देख चिकित्सक ने घायलों को जिला अस्पताल अयोध्या रेफर कर दिया।

पिकअप चालक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मुड़कटवा बाजार के सब्जी व्यवसायी प्रतिदिन सुबह अयोध्या सब्जी मंडी से सब्जी लाने जाते हैं। बुधवार को भी मंडी जा रहे थे। इसी बीच रामगढ़ से नगरा की तरफ जा रहे तेज रफ्तार स्कार्पियो ने उसकी पिकअप में टक्कर मार दी। हादसे में पिकअप पलट गई। घटना में चालक संतोष सहित व्यापारी मंगरू प्रसाद, मनीराम, सुशील व प्रेम कुमार घायल हो गए। मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष रोहित उपाध्याय ने घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विक्रमजोत भिजवाया। वहां से सभी को जिला अस्पताल अयोध्या रेफर कर दिया गया।

Edited By: Jagran