गोरखपुर, जागरण संवाददाता : प्रदेश में विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 की तैयारियां तेज कर दी गई हैं। इसके अतिरिक्त सात मार्च, 2022 को समाप्त हो रहे स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव भी कराया जाएगा। तैयारियों को पूर्ण करने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन कार्य से जुड़े सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कोरोना रोधी टीका के दोनों डोज लगवाने का निर्देश दिया है।

विधानसभा निर्वाचन 2022 की तेजी से चल रही तैयारियां

विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 की तैयारियां तेजी से चल रही हैं। ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य द्वारा चुने जाने वाले स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र के सदस्य का कार्यकाल भी सात मार्च 2022 को समाप्त हो रहा है। विधानसभा सामान्य निर्वाचन के अतिरिक्त विधान परिषद के स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र के सदस्य का चुनाव भी आने वाले समय में संपन्न कराया जाएगा। भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन को देखते हुए कोरोना से बचाव के उपाय करने का निर्देश दिया है। इसी क्रम में मतदान कार्मिकों एवं निर्वाचन कार्य से जुड़े सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों के डबल डोज वैक्सीनेशन को पूरा कराने को कहा गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी विजय किरन आनंद ने सभी विभागाध्यक्षों एवं कार्यालयाध्यक्षों को निर्देश दिया है कि मुख्य चिकित्साधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए अधीनस्थ कार्यरत सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कोरोनारोधी टीका की दोनों डोज प्राथमिकता के आधार पर लगवा दें।

जिला निर्वाचन कार्यालय में पूरी की जा रही तैयारियां

विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 को लेकर जिला निर्वाचन कार्यालय में तैयारियां तेज कर दी गई हैं। विधानसभा की मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य के लिए भी तैयारी की जा रही है। पुनरीक्षण का कार्य एक नवंबर से शुरू होगा और पांच जनवरी को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होगा। माना जा रहा है कि इसके बाद ही नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। इधर स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव लडऩे की तैयारियां शुरू हो गई हैं। नवनिर्वाचित प्रधानों, क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत सदस्यों तथा नगर निगम के सभासद एवं नगर पंचायतों के सदस्यों से संपर्क करना शुरू कर दिया है।

Edited By: Rahul Srivastava