गोरखपुर, जेएनएन। एम्स (GORAKHPUR AIIMS) में अप्रैल से मरीज भर्ती होने लगेंगे। इसके पहले जनवरी से एनेस्थीसिया व पल्मनरी के दो नए विभाग भी शुरू हो जाएंगे। इनडोर और आउटडोर की व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने वाले चिकित्सकों की नियुक्ति के लिए साक्षात्कार की प्रक्रिया इस माह पूरी हो जाएगी।

प्रतिदिन देखे जा रहे नौ सौ मरीज

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (GORAKHPUR AIIMS) के डिप्टी डायरेक्टर अश्विनी माहौर ने बताया कि 11 विभागों की ओपीडी में इस समय औसतन 900 मरीज रोजाना देखे जा रहे हैं। इनडोर का भवन लगभग तैयार है। वार्डों में कुछ काम बचे हैं, जो जल्द पूरे हो जाएंगे। मार्च तक हर हाल में यह पूरा हो जाएगा। गोरखपुर एम्स में 124 चिकित्सकों की नियुक्ति होनी है। साक्षात्कार की प्रक्रिया इस महीने पूरी कर दिसंबर तक उन्हें ज्वाइन का लिया जाएगा। आयुष ब्लाक में माइनर ऑपरेशन थियेटर भी शुरू कर दिया जाएगा।

इन पदों पर होगी डॉक्टरों की भर्ती

23 प्रोफेसर

21 एडिशनल प्रोफेसर

30 एसोसिएट प्रोफेसर

50 असिस्टेंट प्रोफेसर

अभी चल रहे ये विभाग

  • मेडिसिन
  • सर्जरी
  • आर्थोपेडिक्स
  • गायनिक
  • ईएनटी
  • ऑप्थल्मोलॉजी
  • साइकेट्रिक
  • डर्मेटोलॉजी
  • डेंटिस्ट
  • पीडियाट्रिक्स
  • रेडियोलॉजी

एम्स को सुचारू करने का काम युद्धस्तर पर चल रहा है। पूरी कोशिश है कि यहां के लोगों को अ'छी व सम्मानजनक चिकित्सा सेवा दी जाए। - अश्विनी माहौर, डिप्टी डायरेक्टर, एम्स (GORAKHPUR AIIMS)

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस