गोरखपुर, जेएनएन। दिल्‍ली के तब्लीगी मरकज में शामिल हुए लोगों के बारे में प्रतिदिन सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। मरकज में शामिल महराजगंज के 21 लोगों के ट्रेन से गोरखपुर आने सूचना पर प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं। महराजगंज के डीएम ने इसकी रिपोर्ट शासन को भेजी है।

डीएम ने शासन को भेजी रिपोर्ट

महराजगंज जिलाधिकारी डॉ उज्ज्वल कुमार ने कहा कि दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज में शामिल होकर आए कोल्हुई व पुरंदरपुर के 21 लोगों की सूची शासन को भेजी गई है। वह कामाख्या एक्सप्रेस से दिल्ली से गोरखपुर आए थे। इसकी सूचना रेलवे बोर्ड को भी दी जाएगी। सभी लोगों का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा जा रहा है। इन लोगों को महराजगंज जिले के महिला अस्पताल के क्वॉरटाइन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

18 व 19 मार्च को आए थे गोरखपुर

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज में महराजगंज जिले के 21 लोग शामिल हुए थे। इन सभी लोगों को पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महराजगंज के जिला महिला अस्पताल के क्वारंटाइन वार्ड में भर्ती कराया है। उक्त लोग बीते 18 व 19 मार्च को तब्लीगी मरकज कार्यक्रम में शामिल होकर कामाख्या एक्सप्रेस से वापस घर चले आए। कोरोना संक्रमण की सूचना पर सभी लोगों ने बीते 21 मार्च से अपने को घरों में कैद कर लिया। पुलिस के सहयोग से सभी लोगों को तीन एंबुलेंसों के माध्यम से महिला अस्पताल के क्वारंटाइन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

यह लोग हुए क्वारंटाइन

पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान ने बताया कि कोल्हुई थाना क्षेत्र के कम्हरिया बुजुर्ग निवासी नईम, इसरार, इनमिलदुल्लाह, आफताब, नदीम, मेराज व आफताब आलम, सोनपिपरी खुर्द गांव निवासी अताउल्लाह, अरशद व इमदादुल्लाह, एकसड़वा गांव निवासी आशिक अली, सदरुल हक, बड़हरा इंद्रदत्त गांव निवासी अब्दुल हसीन, नूर आलम व इब्राहिम व पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के विशुनपुर फुलवरिया निवासी अशफाक, सलाउद्दीन, असरूद्दीन, इम्तियाज तथा इसी थाना क्षेत्र के विशुनपुर कुर्सियां निवासी निजामुद्दीन व वसीउल्लाह दिल्ली के तब्लीगी मरकज में शामिल हुए थे। इन लोगों की सूचना शासन से मिली थी। सूची के आधार पर सभी लोगों को चिह्नित किया गया है। इन्हें महिला अस्पताल में क्वारंटाइन किया गया है। डीएम डा. उज्ज्वल कुमार व एसपी रोहित ङ्क्षसह सजवान ने देर शाम कोल्हुई थाने पर पहुंच कर इस मामले में जानकारी प्राप्त की। सीएमओ डा. एके श्रीवास्तव ने कहा कि क्वारंटाइन किए गए सभी लोगों की स्वास्थ्य टीम निगरानी कर रही है।

मस्जिदों में चला सर्च अभियान, 31 मौलवी क्वारंटाइन

महराजगंज जिले के पुरंदरपुर के ईटहिया मस्जिद में 14 मौलवियों के मिलने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। बुधवार को पूरे जिले में 100 से अधिक मस्जिद, मदरसे व ईंदगाह पर पुलिस फोर्स पहुंची। सर्च अभियान चलाकर यहां रहने वालों की तस्दीक की गई। जांच में पता चला कि कोतवाली थाना क्षेत्र में 10, नौतनवा में 13, पनियरा में आठ बाहरी लोग जमात में शामिल होने के लिए आए थे और लंबे समय से यहां रुके हुए हैं। इनमें दिल्ली, मुंबई, गुजरात, कासगंज, बांदा, फिरोजाबाद, गाजियाबाद व बरेली के रहने वाले लोग भी शामिल हैं। सूची तैयार कर पुलिस ने 31 मौलवियों को मस्जिद, पंचायत भवन में क्वारंटाइन कर दिया है। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस इन पर नजर बनाए हुए है। प्रारंभिक जांच में किसी में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं।

मस्जिदों की ली गई तलाशी

पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अभियान चलाया गया। कोतवाली के गबडुआ मस्जिद में तलाशी ली गई। बगल की पंचायत भवन में 10 लोग मिले। सभी दूसरे प्रांत के रहने वाले हैं। जमात में शामिल होने के लिए 15 दिनों से यहीं पर हैं। वहीं नौतनवा के ठेकिया मस्जिद से पुलिस ने 13 लोगों को हिरासत में लिया। सभी कासगंज व आस-पास के रहने वाले हैं। जमात में शामिल होने के लिए मस्जिद में रुके थे। ट्रेन से गोरखपुर फिर नौतनवा पहुंचे। लॉकडाउन होने के बाद यहीं रुक गए। हालांकि दोनों जगहों पर मस्जिद प्रशासन की ओर से पुलिस को सूचना नहीं दी गई थी। पनियरा क्षेत्र में आठ मौलवी मिले हैं। एसपी ने कहा कि सभी को विभिन्न जगहों पर क्वारंटाइन के लिए रखा गया है।

क्वारंटाइन किए गए युवक के घर पहुंचने से लोग भयभीत

संक्रमण से ग्रामीणों को बचाने के लिए प्रशासन बाहर से आए लोगों को गांव के विद्यालय, ग्राम सचिवालय आदि में ठहरने की व्यवस्था किया है। कुछ लोगों की लापरवाही से लोग बीमारी फैलने की आशंका से सहमे हैं। परसामलिक थाना क्षेत्र के ग्राम सभा असुरैना का है। यहां गांव के प्राथमिक विद्यालय में जयपुर, दिल्ली, मुंबई आदि शहरों से आए कुल आठ लोगों को ठहराया गया है। लेकिन लापरवाही का आलम यह है कि घर के समीप क्वारंटाइन कराए गए लोग अंधेरा घिरते ही चोरी छुपे घर पहुंच जा रहे हैं, और जैसे ही किसी अधिकारी के आने की आहट मिल रही है। आनन- फानन में भागकर वापस लौट आ रहे हैं। मंगलवार की शाम क्वारंटाइन कराया गया एक युवक जैसे ही घर पहुंचा। इसकी भनक लगते ही ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। हंगामा बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को पकड़ कर क्वारंटाइन कराया।

दुबई से आए युवक का नमूना जांच के लिए भेजा

दुबई से अपने घर महराजगंज जनपद के श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत माधोपुर गांव आए एक युवक को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में बीती रात में भर्ती कराया। सुबह युवक के बलगम का नमूना चिकित्सकों की निगरानी में लेकर जांच के लिए मेडिकल कालेज गोरखपुर भेजा गया। 

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस