Move to Jagran APP

Gonda Lok Sabha Seat: लोकसभा चुनाव ने बढ़ाई सियासी दिग्गजों की बेचैनी, दांव पर प्रतिष्ठा; जानें गोंडा सीट का समीकरण

कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र में बहराइच जिले की कैसरगंज व पयागपुर गोंडा जिले की कटराबाजार कर्नलगंज व तरबगंज विधानसभा सीट शामिल है। भाजपा ने इस बार सांसद बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करण भूषण सिंह को मैदान में उतारा है। सपा ने भगतराम मिश्र व बसपा ने नरेंद्र पांडेय पर दांव लगाया है। बसपा व सपा से ब्राह्मण उम्मीदवार होने से भाजपा के कोर वोटर में सेंधमारी की आशंका है।

By Varun Yadav Edited By: Riya Pandey Mon, 20 May 2024 06:00 AM (IST)
गोंडा में नेताओं का कद तय करेगा लोकसभा चुनाव

जागरण संवाददाता, गोंडा। Gonda Lok Sabha Seat: आज का दिन खास है। पांचवें चरण में कैसरगंज व गोंडा लोकसभा क्षेत्र में मतदान है। प्रत्याशी जीत के लिए पूरी ताकत लगाए हुए हैं। इस चुनाव ने सियासत के दिग्गजों की बेचैनी बढ़ा दी है।

दरअसल, यह चुनाव वर्ष 2027 में होने वाले विधानसभा चुनाव की जमीं तैयार करने में अहम भूमिका निभाएगा। फिलहाल, सियासी दिग्गज अपनी पकड़ साबित करने के लिए हर दांव पेंच आजमा रहे हैं।

कैसरगंज में सांसद समेत दस की प्रतिष्ठा दांव पर

कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र में बहराइच जिले की कैसरगंज व पयागपुर, गोंडा जिले की कटराबाजार, कर्नलगंज व तरबगंज विधानसभा सीट शामिल है। भाजपा ने इस बार सांसद बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करण भूषण सिंह को मैदान में उतारा है। सपा ने भगतराम मिश्र व बसपा ने नरेंद्र पांडेय पर दांव लगाया है। बसपा व सपा से ब्राह्मण उम्मीदवार होने से भाजपा के कोर वोटर में सेंधमारी की आशंका है। यह सीट वर्ष 2014 से भाजपा के पास है।

इस सीट पर कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह, एमएलसी अवधेश कुमार उर्फ मंजू सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम मिश्र, पयागपुर में भाजपा के सुभाष त्रिपाठी, कर्नलगंज में अजय कुमार सिंह व तरबगंज से प्रेम नरायन पांडेय विधायक की प्रतिष्ठा पर दांव पर लगी है।

कैसरगंज ये सपा के विधायक आनंद यादव, पूर्व मंत्री योगेश प्रताप सिंह, पूर्व विधायक बैजनाथ दुबे, मुकेश श्रीवास्तव, पूर्व एमएलसी महफूज खां की प्रतिष्ठा भी दांव पर है।

गोंडा लोकसभा क्षेत्र में भाजपा के पांच विधायक

गोंडा लोकसभा क्षेत्र में बलरामपुर जिले का उतरौला विधानसभा क्षेत्र, गोंडा जिले की गोंडा सदर, मेहनौन, मनकापुर, गौरा विधानसभा क्षेत्र शामिल है। गोंडा सदर से भाजपा के प्रतीक भूषण सिंह, मेहनौन से विनय कुमार द्विवेदी, गौरा से प्रभात कुमार वर्मा, मनकापुर से रमापति शास्त्री व उतरौला से राम प्रताप वर्मा विधायक हैं। इस सीट से भाजपा ने सांसद कीर्तिवर्धन सिंह को एक बार फिर प्रत्याशी बनाया है।

वहीं, सपा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा की पौत्री श्रेया वर्मा व बसपा ने सौरभ मिश्र पर दांव लगाया है। यह सीट भी सत्तापक्ष व विपक्ष के नेताओं की प्रतिष्ठा से जुड़ी हुई है। सपा नेता सूरज सिंह, पूर्व विधायक नंदिता शुक्ला, प्रतिभा सिंह, पूर्व विधायक रामप्रताप सिंह की प्रतिष्ठा दांव पर है।

यह भी पढ़ें: विधायक मनोज पांडेय की बढ़ी मुश्किलें, दल बदल कानून के तहत विधायकी खत्म कराएगी सपा; अखिलेश करेंगे कार्रवाई