संसू, इटियाथोक (गोंडा): मजदूरी करने गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक के शरीर पर चोट के निशान होने का दावा घर वालों ने किया है। पिता ने हत्या की आशंका जताते हुए कार्रवाई की मांग की है। एसओ ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

इटियाथोक कर्मडीहकला पंडितपुरवा के चंद्रभान पांडेय ने बताया कि उनका बेटा प्रमोद पांडेय उर्फ नकाब छह साल से गांव के ही चंद्रप्रकाश वर्मा के यहां मजदूरी करता था। शनिवार की रात सूचना मिली कि बेटे की तबियत खराब हो गई है। जब वह पहुंचे तो बेटा बेहोश मिला। 

पिता के मुताबिक इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही बेटे ने रास्ते में दम तोड़ दिया। उनका कहना है कि प्रमोद को मारा-पीटा गया है। शरीर पर कई जगह चोट के निशान हैं। थाने में तहरीर देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

मृतक की बहन जुगरा ने कहा कि उसके भाई को बेरहमी से मारा-पीटा गया है। गले में सूजन व पीठ पर चोट के निशान हैं। प्रभारी निरीक्षक इटियाथोक करुणाकर पांडेय ने कहा कि मामले की छानबीन की जा रही है। मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्पष्ट होगा। इसके बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

गांव में मचा कोहराम

कर्मडीहकला गांव में युवक की मौत होने के बाद कोहराम मचा हुआ है। घर वाले रो-रोकर बेहाल हैं। घटना को लेकर लोग तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे हैं। मृतक के पांच भाई व एक बहन है। वह दूसरे नंबर की संतान था। ग्रामीणों कहना है कि परिवार बहुत गरीब है। घर में बुजुर्ग मां-बाप का सहारा छिन गया। वह परिवार में कमाने वाला इकलौता सदस्य था।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट