गोंडा : नागरिकता संशोधन कानून लागू होने पर विरोध प्रदर्शन के दौरान भीड़ से राष्ट्रगान गवाने वाले एएसपी महेंद्र कुमार को डीजीपी ने स्वर्ण पदक देने का निर्णय लिया है। वहीं, अयोध्या से सटे गोंडा में राम मंदिर फैसला व त्योहार के दौरान कानून व्यवस्था बेहतर बनाने वाले एसपी को रजत पदक मिलेगा।

अगस्त 2019 में जिले में पुलिस अधीक्षक की कमान संभालने वाले राजकरन नैयर ने दुर्गा पूजा, दशहरा, कजरी तीज, ईद सहित अन्य पर्वों के दौरान बेहतर प्लानिग की। यही नहीं, अयोध्या विवाद, सीएए के विरोध के दौरान भी पुलिस काफी सतर्क रही। इस पर डीआइजी डॉ. राकेश सिंह ने पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर पुलिस अफसरों की प्रशंसा करते हुए सम्मानित करने की अनुशंसा की थी। सीएए के विरोध में 20 दिसंबर को शहर के इमामबाड़ा के पास हजारों की भीड़ प्रदर्शन कर रही थी। इस दौरान एएसपी ने भीड़ को नियंत्रित कर राष्ट्रगान गवाना शुरू कर दिया। इस कारण किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति उत्पन्न नहीं हुई। वहीं, कटराबाजार थाने के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार ने संवेदनशील मौकों पर बेहतरीन कार्य किया। इसके चलते डीजीपी ओपी सिंह ने एएसपी व कटराबाजार थाना प्रभारी को स्वर्ण पदक तथा एसपी को रजत पदक देने का निर्णय लिया है। इन अधिकारियों को गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित किया जाएगा। डीआइजी डॉ. राकेश सिंह ने कहा कि यह गोंडा पुलिस के लिए गौरव का क्षण है। त्योहार व अयोध्या विवाद के फैसले के वक्त गोंडा में कानून का राज स्थापित करने के लिए किए गए प्रयास पर यह सम्मान प्राप्त हुआ है। गोंडा पुलिस आमजनता की सुरक्षा व उसे त्वरित न्याय दिलाने के लिए कटिबद्ध है।

-आरके नैयर, एसपी गोंडा सीएए के विरोध के दौरान हिम्मत से काम करते हुए प्रदर्शनकारियों से राष्ट्रगान गवाने पर यह सम्मान प्राप्त हुआ है। यह हमारे लिए खुशी का पल है।

-महेंद्र कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक जिले का कटरा बाजार संवेदनशील माना जाता है। यहां पर बिना किसी विवाद के त्योहार व अन्य सभी आयोजनों को शांतिपूर्ण ढंग से कराने में सफलता प्राप्त हुई है। सम्मान हमें और अधिक बेहतर ढंग से कार्य करने के लिए प्रेरित करता है।

-मनोज कुमार यादव, इंस्पेक्टर कटरा बाजार

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस