गोंडा: बाजार में उल्लास दिख रहा है। दीपावली नजदीक आ रही है। ऐसे में लोग घरों को सजाने-संवारने में जुट गए हैं। बाजार में पेंट की दुकानों पर भीड़ होने लगी है। हर कोई अपने हिसाब से कलर का चयन कर रहा है। बाजार में कई वैरायटी में पेंट व रंग बिक रहे हैं। इस बार हरे व हल्के पीले रंग के कलर की डिमांड ज्यादा है। तड़क-भड़क वाले रंग के बजाए आंखों को आराम देने वाले रंग पर लोगों की निगाहें टिकी हुई हैं। नए ट्रेंड में वुड लैंड, जंगल थीम पर ज्यादा फोकस है। वॉल पुट्टी और कंपनियों के कलर को लोग वरियता दे रहे हैं।

कहते हैं कि जिस घर में साफ-सफाई होती है, उसमें मां लक्ष्मी का वास होता है। दीपावली के मौके पर घरों में इसीलिए गणपति व मां लक्ष्मी की पूजा होती है। पूरी रात लोग आराधना करते हैं। ऐसे में घरों को अभी से ही सजाने संवारने का काम शुरू हो गया है। रंगाई-पुताई के लिए बाजार में भीड़ आ रही है। कोई पेंट खरीद रहा है तो कोई रंग। फिलहाल, बाजार में इस बार चमकीले रंग की ज्यादा ही मांग है।

दुकानदार रोहित का कहना है कि इस बार परंपरागत रंग से अलग हटकर लोग कुछ अलग चाह रहे हैं। पहले ज्यादा डॉर्क रंग लोग पसंद करते थे, अब हल्के कलर की मांग अधिक है। सभी के अलग-अलग रेट हैं। प्लास्टिक पेंट 400 रुपये से लेकर 800 रुपये तक बिक रहा है। ऑयल बाउंड 100 रुपये से लेकर 130 रुपये तक है। समोसम की मांग अब कम है, उसकी जगह पर लोग ऑयल बाउंड डिस्टेंपर ले रहे हैं। दीवारों को सीलन से बचाने के लिए पहले प्राइमर लगवाया जा रहा है, उसके बाद पेंटिग हो रही है। तीन सौ की बजाय पांच सौ रुपये तक में पुताई करने के लिए मजदूर मिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस