गोंडा : यदि आपके मुहल्ले में राजकीय सस्ते गल्ले की दुकान से अनाज नहीं मिल पा रहा है तो इसके लिए आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप शहर के किसी भी कोटेदार के पास जाकर अनाज ले सकते हैं। हां, इसके लिए आपका आधार नंबर राशनकार्ड से लिक होना चाहिए। इसके अलावा आप जब जब चाहें दुकान बदल सकते हैं। राशनकार्ड पोर्टबिलिटी की व्यवस्था पहले चरण में जिले के नगर निकायों में दस अगस्त से लागू की जा रही है। आपूर्ति विभाग ने निकाय क्षेत्र में नई व्यवस्था को लागू करने के लिए ई-पॉस मशीनों को अपडेट करने का कार्य शुरू कर दिया है।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत पात्रता श्रेणी में आने वाले परिवारों को अनाज उपलब्ध कराने के लिए शहर के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में राजकीय सस्ते गल्ले की दुकान संचालित है। वितरण में गड़बड़ी को रोकने के लिए शासन ने ई-पॉस मशीनों का उपयोग शुरू कराया था। इसके लिए आधार नंबर राशन कार्ड से लिक किए गए हैं। जिले में करीब 80 फीसद परिवार के आधार सीडिग का कार्य पूरा हो चुका है। जिले के शहरी क्षेत्र में 71 दुकानों पर 26899 कार्डधारक पंजीकृत हैं, जिसमें अंत्योदय अन्न योजना के 1741 व पात्र गृहस्थी के 25158 कार्डधारक शामिल हैं। निकायवार दुकानदार व कार्डधारक

नगर क्षेत्र दुकान कार्डधारक

गोंडा 50 16776

कर्नलगंज 08 3944

मनकापुर 05 1627

नवाबगंज 03 1884

कटरा 02 1102

खरगूपुर 03 1884 10 अगस्त से नगर क्षेत्र के कार्ड धारक किसी भी कोटेदार से राशन प्राप्त कर सकते हैं। इस व्यवस्था को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए पूर्ति विभाग जुटा हुआ है।

-वीरेंद्र कुमार महान, डीएसओ गोंडा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस