गोंडा: कजरीतीज मेला पर भी मोदी-योगी का जादू छाया हुआ है। कांवड़ियों के लिए बाजार में जगह-जगह बिक रहे केसरिया वस्त्रों इनकी छाप है। तिरंगा छाप वाले वस्त्रों की भी मांग है। फिलहाल, मेले की तैयारियां अंतिम चरण में हैं।

कजरीतीज पर जिलेभर से कांवड़ियों का जत्था कर्नलगंज स्थित सरयू नदी के तट पर पहली सितंबर को एकत्र होगा। स्नान के बाद जल लेकर शहर के दुखहरननाथ मंदिर व खरगूपुर स्थित पृथ्वीनाथ मंदिर पर अगले दिन जलाभिषेक करेंगे। दुखहरननाथ मंदिर पर कांवड़ियों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रयास तेज कर दिए गए हैं। एलबीएस तिराहे से ही बैरीकेडिग की गई है। पहली सितंबर से ही रूट डायवर्जन की व्यवस्था रहेगी। निगरानी के लिए पुलिस व पीएसी के जवान लगाए गए हैं। कर्नलगंज के सरयू घाट पर भी पुलिस की सतर्कता बढ़ा दी गई है। एसपी आरके नैय्यर ने बताया कि सुरक्षा को लेकर कार्ययोजना तैयार है। पुलिस कर्मियों की तैनाती कर दी गई है। इनसेट

अवकाश निरस्त, कर्मचारी तैनात

- कजरीतीज मेले को लेकर सीएमओ डॉ. मधु गैरोला ने स्वास्थ्य कर्मियों के अवकाश निरस्त कर दिए हैं। साथ ही अतिरिक्त टीमों का गठन किया है। मंदिर व घाट पर स्वास्थ्य टीमों के साथ ही सचल दल बनाया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप