गोंडा: जय हनुमान ज्ञान गुन सागर, जय कपीस तिहुं लोक उजागर.. की शुक्रवार को भोर से लेकर शाम तक हर ओर गूंज रही। हनुमानगढ़ी मे विशेष भीड़ दिखी। यहां पर सुबह व शाम को विशेष आरती हुई। जिसमें लोगों ने प्रतिभाग किया। साथ ही शहर में जगह-जगह पूजन अर्चन हुआ। इसे देखते हुए विशेष प्रबंध किए गए थे।

सुबह से मालवीय नगर स्थित हनुमानगढ़ी पर पूजन अर्चन शुरू हो गया। हर कोई बजरंग बली की आराधना में लगा रहा। कोई हनुमान चालीसा का पाठ करता नजर आया तो कोई आरती का उच्चारण करता दिखा। शाम को आरती में श्रद्धालुओं की भीड़ रही। हनुमान जयंती के अवसर बजरंग बली की आराधना में श्रद्धालु लगे रहे। इसके अतिरिक्त कोतवाली के पास नई हनुमानगढ़ी पर भी श्रद्धालुओं ने पहुंचकर पूजन अर्चन किया। इसके अलावा कई अन्य मंदिरों पर राम चरित मानस का पाठ हुआ। जिसमें लोगों ने हिस्सा लिया। शहर के बालाजी भगवान के मंदिर पर भी लोग जुटे रहे। यहां पर दिन भर हनुमान चालीसा के साथ ही लोग सुंदरकांड का पाठ करते नजर आए। कुछ श्रद्धाुलओं ने सिदूर लगाकर हनुमान जी का पूजन किया। हर कोई बजरंग बली को खुश करने में लगा रहा। श्रद्धालुओं ने लड्डू का प्रसाद भी चढ़ाया। हनुमान जयंती पर शहर में कई जगहों पर पंडाल लगाकर प्रसाद का वितरण किया गया।

इनसेट

भंडारे का हुआ आयोजन

मनकापुर: आइटीआइ स्थित संकट मोचन मंदिर के साथ ही शास्त्रीनगर, पटेलनगर में पूजन-अर्चन सहित अन्य कार्यक्रम हुए। यहां पर सुंदरकांड व रामायण पाठ का कार्यक्रम हुआ। बाद में यहां पर भंडारे का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम में इकाई प्रमुख राजीव सेठ, मुक्ता सेठ, आलोक गुप्ता, रघुनाथ दूबे, राम लखन वर्मा सहित अन्य मौजूद थे। वहीं पर रामलीला मैदान के समीप स्थित सांई मंदिर में जागरण का कार्यक्रम हुआ। जिसमें भक्तिगीतों पर श्रद्धालु मगन दिखे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप