जासं, गाजीपुर : केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने राष्ट्र निर्माण में महती भूमिका निभाई। उन्होंने ¨हदुत्व को बचाने का काम किया और देश के युवाओं में राष्ट्र निर्माण एवं अपनी संस्कृति के प्रति चेतना पैदा की। वह रोडवेज स्थित मैरेज हाल में रविवार की देर शाम भारत विकास परिषद द्वारा आयोजित स्वामी विवेकानंद की 156वीं जयंती पर गोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।

विशिष्ट अतिथि बीएचयू के डा. ओम शंकर ने कहा कि स्वामी विवेकानंद कहते थे कि प्रेम करना सीखो, जो सभी से प्रेम करना सीख जाता है वहीं मुकम्मल इंसान है। डा. युधिष्ठिर तिवारी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद वेदांत और योग के वाहक थे। इसमें मौके पर मारकंडेय ¨सह, गिरिजाशंकर पांडेय, विश्वमोहन शर्मा, पीएन ¨सह, विजयाशंकर राय, डा. अर¨वद, रामाश्रय राय, श्रीकांत राय, अजय राय थे।

-----------------

बदलती हुई तकनीकी से बदली शैक्षिक पद्धति

नंदगंज : स्थानीय बाजार स्थित रेनबो माडर्न स्कूल में कला विज्ञान प्रदर्शनी के वार्षिक कार्यक्रम अंकुरण में मनोज सिन्हा ने कहा कि बदलती हुई तकनीकी के कारण शैक्षिक पद्धति भी बदली है। इस तरह के कार्यक्रमों से बच्चों के प्रतिभा में निखार तथा प्रतिभा प्रदर्शन का अच्छा अवसर उपलब्ध होता है जिससे आगे की शिक्षा में छात्रों के अंदर रोचकता व जागरुकता बढ़ती है। उन्होंने आशा जताई की हमें उम्मीद है कि जन आकांक्षाओं को पूरा करने मे विद्यालय अपनी भूमिका का निर्वाह करेगा। बच्चों ने प्रदर्शनी में गतिशील गाजीपुर, जीएसटी, जीव वृद्धि, वेद व विज्ञान, महिला सशक्तिकरण सहित आदि कई विषयों से संबंधित पटल स्थापित किया था। इसमें विशिष्ट अतिथि शिक्षक एमएलसी डा. केदारनाथ ¨सह, भाजपा जिलाध्यक्ष भानुप्रताप ¨सह, प्रबंधक अरूण कुमार जायसवाल, कृष्णबिहारी राय, सुनील ¨सह, विनोद अग्रवाल, रूद्रा पांडेय, शशिकांत शर्मा, राजेश राजभर थे। संचालन विनीत शर्मा ने किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप