जासं, गाजीपुर : विद्युत विभाग ने अधीक्षण अभियंता सुरेंद्रनाथ शुक्ला ने वर्कशाप के अधीक्षण अभियंता आशू कालिया को को पत्र लिखकर विभिन्न क्षमता के 351 जले ट्रांसफार्मर (परिवर्तक) की मांग की है। साथ ही उन्होंने जले ट्रांसफार्मर को दुरुस्त करने के लिए युद्धस्तर पर मरम्मत कार्य में तेजी लाने को कहा है, ताकि उपभोक्ताओं के आक्रोश को कम किया जा सके। इस आशय का पत्र अधीक्षण अभियंता वर्कशाप को भेजा जा चुका है।

प्रदेश सरकार ने दो दिनों में जले ट्रांसफार्मर को बदलने का आदेश जारी तो कर दिया है लेकिन वर्कशाप में जले ट्रांसफार्मर की धीमी मरम्मत के चलते उसे नियत समय में बदलना संभव नहीं हो पा रहा है। ऐसे में विद्युत विभाग के अधिकारियों को उपभोक्ताओं के आक्रोश को झेलना पड़ रहा है। इन दिनों वर्कशाप में दस के 22, 25 के 227, 63 के 76, सौ के 18, 250 के दो, 400 के पांच एवं 630 केवीए के एक ट्रांसफार्मर जले पड़े हैं। हालांकि स्थानीय वर्कशाप में केवल 250 केवीए की क्षमता के ट्रांसफार्मर की मरम्मत होती है बाकी ट्रांसफार्मर की मरम्मत के लिए वाराणसी वर्कशाप में भेजा जाता है। मालूम हो कि बारिश के इस मौसम में खासकर जुलाई एवं अगस्त में ट्रांसफार्मर के जलने की संख्या में बेतहाशा वृद्धि होती है। सामग्री के अभाव में मरम्मत कार्य में तेजी नहीं आ पा रही है। इसलिए अधीक्षण अभियंता सुरेंद्रनाथ शुक्ला ने वर्कशाप के अधिकारियों को अन्य जनपदों से ट्रांसफार्मर मंगवा कर जले ट्रांसफार्मर को बदलवाने का अनुरोध किया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021