किया गया प्रशिक्षण प्रमाण पत्र जागरण संवाददाता, कासिमाबाद (गाजीपुर) : ब्लाक संसाधन केंद्र पर निष्ठा (नेशनल इनिशिएटिव स्कूल हेड्स एण्ड टीचर्स होलिस्टिक  एडवांसमेंट) का पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के चौथे चक्र का समापन बुधवार को हुआ। इस मौके पर खंड शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार द्वारा कुल तीन बैच में 150 प्रतिभागियों को प्रशिक्षण प्रमाण पत्र वितरित किया ।

खंड शिक्षा अधिकारी ने कहा कि निष्ठा प्रशिक्षण के द्वारा अध्यापकों में शिक्षा में नवाचार की प्रवृत्ति का विकास होगा और बच्चों को गतिविधि आधारित शिक्षण कार्य करने में सहायता मिलेगी। डायट प्रवक्ता एवं मेंटर सर्वेश कुमार राय ने कहा कि प्रशिक्षण कार्यक्रम से अध्यापकों में नेतृत्व क्षमता का विकास होगा और बच्चों  में गुणात्मक सुधार होगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है अध्यापकों की  कार्य क्षमता का वृद्धि करना। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय और प्रदेश सरकार के सहयोग से चल रहा है। प्रतिभागियों में श्यामबिहारी सिंह यादव, श्यामदेव यादव, उमेशकान्त सिंह, अवनीश कुमार, लक्ष्मी यादव, सत्यप्रिया जायसवाल, सुरेन्द्र यादव, माया देवी, जलालुद्दीन अॅसारी  सहित विकास खण्ड के अन्य अध्यापकों, शिक्षा मित्र एवं अनुदेशकों ने प्रतिभाग किया। संचालन शमशेर अहमद ने किया। सैदपुर : स्थानीय ब्लाक संसाधन केंद्र पर चल रहा छठवें चरण के निष्ठा प्रशिक्षण के समापन पर तहसीलदार दिनेश कुमार ने 150 प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाणपत्र दिया। उन्होंने कहा कि सरकार ने परिषदीय विद्यालयों को और बेहतर बनाने के लिए यह प्रशिक्षण शुरू किया है। खंड शिक्षा अधिकारी डा. मनोज शर्मा ने कहा कि प्रशिक्षित शिक्षक अपने विद्यालयों में पूरे मनायोग से कार्य करें। विद्यालयों के निरीक्षण में कमियां पाई गई तो कार्रवाई तय है। प्रशिक्षक इसरार अहमद सिद्दीकी, प्रियंका यादव, शिल्पी बरनवाल, डायट प्रवक्ता अर्चना सिंह आदि ने प्रशिक्षण के दौरान दी गई जानकारियों की चर्चा की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस