जागरण संवाददाता, गाजीपुर : जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले नवजात शिशुओं व गर्भवती महिलाओं को पूर्ण रूप से प्रतिरक्षित करने के लिए सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान सोमवार से शुरू कर दिया गया। शहर के हाथीखाना स्थित स्वास्थ्य केंद्र पर एसीएमओ डा. केके वर्मा ने नवजातों को ओरल वैक्सीन पिलाकर इसका शुभारंभ किया। अभियान को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से 413 टीमों का गठन भी किया गया है।

टीम में तैनात आशा, आंगनबाड़ी व एएनएम द्वारा गांवों में घूमकर बच्चों की सूची तैयार की जाएगी। इसके आधार पर जिन बच्चों का नियमित टीकाकरण नहीं हो पाया उन्हें टीका लगाने के साथ रिपोर्ट नोडल अधिकारियों को देने का काम करेंगी। नोडल अधिकारी द्वारा रिपोर्ट की जांच कर उच्चाधिकारियों को भेजने के साथ आकड़ों को पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। एक सप्ताह तक चलने वाले इस अभियान पर शासन की नजर रहेगी। खासकर उन इलाकों पर विशेष नजर रखी जाएगी जहां नियमित टीककारण से नवजात व गर्भवती महिलाएं वंचित हैं। मिशन इंद्रधनुष सात बीमारियों डिप्थीरिया, काली खांसी, पोलियो, टीबी, खसरा और हेपेटाइटिस-बी के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस