जागरण संवाददाता, लौवाडीह (गाजीपुर) : करइल क्षेत्र में बड़े-बड़े उपजाऊ मैदान हैं लेकिन सिचाई सुविधा के अभाव में यह क्षेत्र काफी पिछड़ रहा है। किसान विद्युत कनेक्शन लेना तो चाह रहा है लेकिन सिवान में विद्युत लाइन न होने के कारण यह संभव नहीं हो पा रहा है। दीनदयाल योजना के तहत गांव-गांव में आवश्यकता से अधिक ट्रांसफार्मर और पोल लगाए जा रहे हैं लेकिन खेतों तक यह व्यवस्था न होने से इस क्षेत्र के कृषि का विकास नहीं हो पा रहा है।

लौवाडीह, जोगामुसहिब, मुर्तजीपुर, खेमपुर, देवरिया आदि गांव के उत्तर तरफ विशाल कृषि योग्य भूमि है। इस क्षेत्र में लौवाडीह, करीमुद्दीनपुर, राजापुर, परसा, लट्ठुडीह, खेमपुर, सिलाइच, मुर्तजीपुर, देवरिया, मर्गुपुर, हेमराजपुर, पारो आदि गांव के हजारों एकड़ उपजाऊ भूमि है। वहीं लौवाडीह के दक्षिण तरफ स्थानीय गांव सहित चांदपुर, बेलेसड़ी, रेवसड़ा, मलसा, पारो सहित कई गांव की उपजाऊ भूमि है लेकिन सिचाई के नाम पर केवल एक सरकारी नलकूप है वो भी रीबोर की अवस्था में है। इन विशाल मैदानों में 11 हजार की विद्युत लाइन भी नहीं गयी है जिससे किसान विद्युत कनेक्शन ले सकें। राजकीय नलकूप की विद्युत लाइन और ट्रांसफार्मर का कहीं आता पता नहीं है। किसान धनंजय राय, संजय राय, संतोष राय, अनिल राय आदि ने मांग की की इस क्षेत्र का विद्युतीकरण किया जाय जिससे इस उपजाऊ क्षेत्र का कृषि विकास हो ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस