जासं, गाजीपुर : नगर सहित ग्रामीण इलाकों में मुस्लिम धर्मावलंबियों ने सोमवार को लॉकडाउन के बीच ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया। छतों, आंगन, सहन आदि में ईद की नमाज अदा की। मोबाइल व अन्य माध्यमों से मुबारकबाद का सिलसिला पूरे दिन चलता रहा। मस्जिदों समेत अन्य जगहों पर दिन भर पुलिस चक्रमण करती रही।

मुहम्मदाबाद : मस्जिदों व ईदगाह में पूर्व निर्धारित पांच लोगों को नमाज अदा करने की व्यवस्था की गयी थी। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सीओ विनय गौतम, प्रभारी निरीक्षक अशेषनाथ सिंह, वरिष्ठ उपनिरीक्षक देवेंद्र सिंह यादव, शाहनिन्दा चौकी प्रभारी संदीप दूबे मय फोर्स चक्रमण करते रहे। भांवरकोल : ईद-उल-फितर का त्योहार सकुशल संपन्न हो गया। पखनपुरा महेशपुर, मच्छटी, रानीपुर, जसदेवपुर, घरजूड़ी, मिर्जाबाद, मुड़ेरा, सोनाड़ी, अवथहीं, कबीरपुर सहित अन्य गांवों के मुस्लिम भाइयों ने अपने-अपने घरों में ही नमाज अदा करने के पश्चात पैतृक कब्रिस्तानों में फातिहा पढ़ी। प्रभारी निरीक्षक विश्वनाथ यादव सहयोगियों के साथ चक्रमण करते रहे। बारा : ईद पर्व पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस एक्टिव मोड में रही। बिहार सीमा पर स्थित मुस्लिम बाहुल्य गांव बारा में प्रभारी निरीक्षक गहमर विमल कुमार मिश्रा के नेतृत्व में फ्लैग मार्च किया गया। ईदगाह और मस्जिदों पर पुलिस की कड़ी निगरानी रही। हालांकि लोगों ने नियमों का पालन करते हुए घरों में ही ईद की नमाज अदा की।  सैदपुर : नगर सहित ग्रामीण अंचलों में ईद-उल-फितर पर्व पर मुस्लिम बंधुओं ने घरों में नमाज अदा की। सादात : मुस्लिम बंधुओं ने मजुई, बरवांकला, कुंदुरुसीपुर, मखदुमपुर, बौरवां, हुरमुजपुर, मौधियां आदि गांवों में सादगी के साथ मनाया। कई लोग दूसरे के घरों में नहीं गए केवल अपने घरों में  सेवई का आनंद लिए। खानपुर : ईद पर्व पर मौलवियों और उलेमाओं ने मुल्क की तरक्की और हिफाजत के लिए दुआ मांगी। सभी मस्जिदों के आसपास और अल्पसंख्यक गांवों में पुलिसबल का चक्रमण चलता रहा। बहरियाबाद : स्थानीय कस्बा सहित क्षेत्र के मलिकनगांव, दरगाह, देईपुर, रायपुर, पलिवार आदि मुस्लिम बाहुल्य गांवों में ईद-उल-फितर पर्व पर मुस्लिम बंधुओं ने घरों में नमाज अदा कर अल्लाह ताला से कोरोना महामारी के खात्मे के लिए दुआ की।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस