जागरण संवाददाता, गाजीपुर : मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गैंग आइएस-191 के सदस्य मो. आजम सिद्दीकी व इनके परिवारीजनों के 10 शस्त्र लाइसेंस को जिला प्रशासन ने निलंबित कर दिया है। इसके बाद कोतवाली पुलिस ने सभी शस्त्र को मालखाने में जमा करा दिया गया है। इससे पहले भी इनके परिजनों के सात शस्त्रों को निलंबित किया गया था।

मुख्तार अंसारी गैंग के सभी सदस्यों के खिलाफ जिला प्रशासन की चौतरफा कार्रवाई जारी है। इसके तहत जिला प्रशासन ने मुख्तार के करीबी मो. आजम सिद्दीकी व इनके पुत्र मोहसिन सिद्दीकी, मो. शादाब सिद्दीकी, साकिब सिद्दीकी सहित निगार बेगम पत्नी मो. आजम, कैसर जहां पत्नी मो. साजिद, मो. साजिद पुत्र प्यारे मुहम्मद प्यारे अली निवासीगण बरबरहना, थाना कोतवाली के कुल 10 शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर शस्त्र को मालखाने में जमा करा दिया गया है। जिला प्रशासन के इस कार्रवाई से संबंधितों में खलबली मची हुई है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021