जागरण संवाददाता : कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ती है तो नई दिल्ली में आइसोलेशन वार्ड के रूप में तब्दील की जा रही ट्रेनों में एक ट्रेन को गाजियाबाद लाया जाएगा। इसके लिए गाजियाबाद स्टेशन के प्लेटफार्म पर ट्रेन को खड़ी करने के लिए मंथन शुरू हो गया है। ट्रेन में मरीजों के लिए तमाम स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध होंगी। जनपद में कोरोना के अब तक पांच मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। जबकि 113 संदिग्ध मरीज आइसोलेशन में रखे गए हैं। विदेश से लौटे डेढ़ हजार मरीजों को विशेष निगरानी में घरों में क्वारंटाइन किया गया है। कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर अफसरों ने तमाम तैयारी शुरू कर दी हैं। मुरादनगर सीएचसी को कोरोना मरीजों के लिए अस्पताल बनाने के लिए चिह्नित किया गया है। इसके अलावा अन्य स्तर पर भी तैयारी की जा रही है। सूत्रों के अनुसार वहीं, नई दिल्ली इस महामारी से निपटने के लिए रेलवे ने अपने एसी कोच को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर रहा है। रेलवे ट्रेन के स्लीपर कोच को कोरोना से पीड़ित रोगियों के लिए आइसोलेशन वार्ड में बदला जा रहा है। हर कोच में छह कोरोना संक्रमितों को रखा जाएगा। यदि गाजियाबाद में मरीजों की संख्या बढ़ती है तो दिल्ली से ट्रेन को मंगवाया जाएगा। ट्रेन में डॉक्टर, नर्स आदि स्वास्थ्य सेवाओं की इंतजाम रहेगा। ट्रेन को किस प्लेटफार्म पर खड़ा किया जाएगा, अभी यह तय नहीं किया गया है।

---

स्टेशन पर एंबुलेंस रहेंगी तैनात

रेलवे स्टेशन पर एंबुलेंस को पार्किंग में खड़ी की जाएगी। सूचना मिलते ही मरीज को एंबुलेंस से स्टेशन पर लाया जाएगा। मरीजों को स्केलेटर से ट्रेन तक पहुंचाया जाएगा। ट्रेन की साफ-सफाई व सैनिटाइज की व्यवस्था रेलवे कर्मचारी ही संभालेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस