संवाद सहयोगी, लोनी: कोतवाली पुलिस ने चार दिन पूर्व लोनी से लूटे गए एल्युमिनियम की सिल्लियों से भरे कैंटर को बरामद कर लिया है। इसे चालक की मिलीभगत से लूटा गया था। पुलिस को गुमराह करने के लिये चालक कैंटर से अलीगढ़ उतर गया था। जिसके बाद अलीगढ़ एसओजी व कोतवाली पुलिस ने घटना का राजफाश करते हुए चालक को गिरफ्तार कर एक क्विंटल माल बरामद कर लिया है। पुलिस ने गिरफ्तार चालक को जेल भेज दिया है। 

लोनी कोतवाली प्रभारी संजय वर्मा ने बताया कि चार दिन पूर्व लोनी बंथला स्थित आइसीडी कंटेनर डिपो से दिल्ली के लिये एक कैंटर में करीब 15 टन एल्युमिनियम की सिल्लियां भरकर चला था। कैंटर को फुरकान निवासी बेहटा गांसोंई जिला बदायूं चला रहा था। रविवार दोपहर को चालक फुरकान  अलीगढ़ पुलिस के पास पहुंचा और कैंटर लूट की शिकायत दी। यह बनाई फर्जी कहानी: चालक फुरकान ने बताया कि कंटेनर डिपो से कैंटर निकलते ही बंथला तिराहे के पास चार युवकों ने उसे हाथ देकर रोका। इसके बाद वह कंटेनर के अंदर घुस आए और हथियारों के बल पर उसे, क्लीनर और कंपनीकर्मी को बंधक बना लिया। कैंटर को अलीगढ़ ले गए। अलीगढ़ पहुंचते ही कैंटर में पंक्चर हो गया तो बदमाश दूसरे कैंटर में माल भरकर फरार हो गए। तीनों को अलीगढ़ छोड़ दिया। यह थी असली कहानी: संशय होने पर अलीगढ़ एसओजी टीम उसे लोनी कोतवाली लेकर पहुंची। जहां एसओजी टीम व कोतवाली पुलिस ने चालक से पूछताछ की तो बयानों में विरोधाभास निकला। इसके बाद पुलिस ने फुरकान को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से एक क्विंटल माल बरामद कर लिया। आरोपित चालक ने बताया कि चारों युवकों को उसने ही बुलाया था और उन्हें अलीगढ़ ले गया। इसके बाद वहां से माल दूसरे कैंटर में शिफ्ट किया। युवक माल लेकर चले गए तो वह खुद पुलिस के पास पहुंच गया। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि मामले में क्लीनर, कंपनीकर्मी की संलिप्तता की भी जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस