-फोटो नं.- 27मोदी-2 जागरण संवाददाता,मोदीनगर:

किसी भी स्तर से दावे चाहे जो भी किए जा रहे हों, लेकिन जल निगम की कार्यशैली में कोई बदलाव नहीं है। जहां पर हाल ही में एनसीआरटीसी ने सड़क बनाई थी। वहां कई जगह दोबारा से सड़क खोद दी गई। यह स्थिति तब है जब पांच दिन पहले हादसे में एक युवक की मौत भी हो चुकी है। वहीं, लोग हादसे का भी लगातार शिकार हो रहे हैं। कई जगह एनसीआरटीसी ने सड़क चौड़ीकरण नहीं किया था। सबसे ज्यादा बुरी स्थिति शहर के आबादी क्षेत्र में हो रही थी,जिससे न सिर्फ हाईवे पर जाम की स्थिति बन रही थी। बल्कि हादसे भी हो रहे थे। पांच दिन पहले जल निगम के सीवरेज के गड्ढे में पहिया गिरने से लोनी के बाइक सवार युवक की मौत भी हो गई थी। इसी को देखते एनसीआरटीसी ने हाल ही में शहर के आबादी क्षेत्र में सड़क बनवाई थी। इसके बाद लोगों ने राहत महसूस की। इसी बीच जल निगम ने गोविदपुरी में कई जगह से सड़क को तोड़कर फिर से खोदाई कर दी। बस अडडे के आसपास भी ऐसा ही हुआ है। इससे लोगों को फिर से दिक्कत हो रही है। रैपिड रेल का काम चलने से सड़क की चौड़ाई कम रह गई है, जिससे जाम की स्थिति बन रही है। वहीं, हादसे की आशंका भी दोबारा से बढ़ गई है। गौर हो कि जल निगम की इस कार्यशैली को लेकर अधिकारियों को विधायक से लेकर प्रशासनिक स्तर पर भी तमाम हिदायतें दी गई हैं। कई बार उनको चेताया भी जा चुका है। लोग लगातार धरना,प्रदर्शन कर अपना विरोध जता रहे हैं। इसके बावजूद अधिकारियों व कार्यदायी संस्था की कार्यशैली में कोई बदलाव नहीं है। इस बारे में एसडीएम शुभांगी शुक्ला का कहना है कि इस मामले में जल निगम के अधिकारियों की बैठक बुलाई जाएगी। किसी भी स्थिति में लोगों को समस्या नहीं होने दी जाएगी।

Edited By: Jagran