जागरण संवाददाता,मोदीनगर:

हापुड़ रोड फाटक शनिवार दोपहर को दो ट्रेनें गुजरने के चलते 20 मिनट तक बंद करना पड़ा। इससे हापुड़ की ओर जाने वाले वाहनों की कतारें हाईवे तक आ गईं और दिल्ली-मेरठ हाईवे पर भी करीब ढाई किलोमीटर लंबा जाम लग गया। उधर, सीवरेज पाइपलाइन डाले जाने के चलते गाजियाबाद से मेरठ की तरफ भी हाईवे पर भयंकर जाम लग गया। यातायात पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद यातायात सुचारू कराया।

शनिवार दोपहर को करीब साढ़े 12 बजे दो माल वाहक जल्दी-जल्दी पास हुईं, जिससे हापुड़ रोड फाटक करीब बीस मिनट के लिए बंद करना पड़ा। परिणामस्वरूप हापुड़ रोड की ओर जाने वाले वाहनों की कतारें लंबी होती चली गईं। वाहनों की कतारें 10 मिनट में ही हाईवे तक आ गईं और पीछे से आ रहे वाहनों की गति पर विराम लग गया। देखते ही देखते मेरठ से गाजियाबाद की ओर वाहनों की कतारें राज चौपले से लेकर महेंद्रपुरी गेट को पार करती हुई नाले तक जा पहुंची। ट्रेन के गुजरने के बाद भी करीब एक घंटे में यातायात सामान्य हो पाया। उधर, भगवान गंज मंडी के आसपास सड़क किनारे सीवरेज पाइपलाइन डाले जाने के चलते सड़क पर निर्माण सामग्री, मशीनरी और मलबा पड़ा हुआ था, जिससे सड़क पर एक वाहन के निकलने की ही जगह बची थी। जबकि शनिवार को हाईवे पर बड़े वाहनों की संख्या ज्यादा थी। यही वजह रही कि गाजियाबाद से मेरठ की तरफ जाने वाले वाहनों को सुबह से लेकर शाम तक रेंग-रेंगकर चलना पड़ा। पांच मिनट की दूरी को तय करने में लोगों को आधे घंटे का पसीना बहाना पड़ा। भीषण गर्मी में जाम में फंसे लोगों को भारी दिक्कत हुई। बेहाल लोग सिस्टम को कोसते रहे। हालांकि, यातायात के पुलिसकर्मियों ने व्यवस्था बनाने के लिए मशक्कत की, लेकिन उनके प्रयास का भी ज्यादा असर नहीं दिखा। इस बारे में सीओ मोदीनगर प्रभात कुमार का कहना है कि हाईवे पर ट्रैफिक पिछले कुछ दिनों से सामान्य दिनों की तरह हो गया है, जबकि इन दिनों मोदीनगर की आबादी क्षेत्र में सड़क किनारे सीवरेज का काम चल रहा है। इसी के चलते हाईवे पर यातायात प्रभावित हो रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021