जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : झंडापुर गांव में घरों में दूषित पानी आने से लोगों को एलर्जी हो रही है। कुछ लोगों को उल्टी व दस्त की शिकायत है। दूषित पानी से परेशान स्थानीय लोगों ने सोमवार को हंगामा किया। लोगों ने जलकल विभाग पर लापरवाही बरतने और अवैध रूप से पेयजल लाइन से फैक्ट्रियों को पानी देने का आरोप लगाया। स्थानीय लोगों ने वसुंधरा जोनल कार्यालय पर धरना देने की चेतावनी दी है। झंडापुर के नरेश कुमार, कृष्णा शर्मा आदि ने बताया कि यहां पर गंगाजल आता है। काफी दिन से यहां पर दूषित पानी आ रहा है। फैक्ट्रियों का रसायनयुक्त पानी घरों में आ रहा है। सीवर लाइन का पानी भी पेयजल लाइन में मिल जाता है। पानी पीने के बाद पेट में दर्द होने लगाता है। शरीर पर लाल निशान बन जाते हैं और एलर्जी हो जाती है। झंडापुर में 50 हजार से अधिक आबादी निवास करती है। औद्योगिक क्षेत्र नजदीक होने के कारण यहां पर बिहार व उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों के लोग किराये पर रहते हैं। दूषित पानी आने का फायदा पानी माफिया उठा रहे हैं। पानी नहीं मिलने पर माफिया ज्यादा कीमत पर पानी के जार बेचते हैं।

-----

इस पानी के पीने से मुझे उल्टी व दस्त हो गए हैं। काफी दिन से एलर्जी और पेट में दर्द की शिकायत है। जलकल विभाग पानी की आपूर्ति करने में भेदभाव करता है।

- मुकेश शर्मा, स्थानीय निवासी

----

जलकल के जेई सोमेंद्र को फोन कर शिकायत करने की कोशिश करते हैं तो वह फोन नहीं उठाते। घर में आ रहा फैक्ट्री का पानी इस्तेमाल करने से मुझे एलर्जी हो रही है।

- राम कुमार, स्थानीय निवासी

-----

मेरे पास अभी दूषित पानी की शिकायत नहीं आई है। यदि झंडापुर में गंदा पानी आ रहा है तो जलकल के इंजीनियर को इसे ठीक कराने के निर्देश दिए जाएंगे।

- सुनील राय, जोनल प्रभारी, वसुंधरा

Edited By: Jagran