जागरण संवाददाता, साहिबाबाद: कुत्तों के अधिकार और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए सोसायटियों में विभिन्न कदम उठाए जा रहे हैं। वसुंधरा के ओलिव काउंटी सोसायटी में पेट एडवाइजरी कमेटी बनाई गई है। कुत्ता खरीदने से पहले लोगों को कमेटी से अनुमति लेनी होगी। इंदिरापुरम के आरेंज काउंटी सोसायटी में कुत्तों को घुमाने के लिए जगह निश्चित कर दी गई है।

वसुंधरा सेक्टर पांच की ओलिव काउंटी सोसायटी के अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन (एओए) के अध्यक्ष केवीएस त्यागी ने बताया कि सोसायटी में छह सदस्यों की पेट एवडवाइजरी कमेटी बनाई गई है। इसमें दो एओए पदाधिकारी, दो कुत्ता पालने वाले, एक निवासी और एक पशु चिकित्सक को शामिल किया गया है।

सोसायटी में यदि किसी को कुत्ता खरीदना होगा तो उसे सबसे पहले कमेटी से मिलना होगा। कमेटी के सदस्य उनके घर की स्थिति जानेंगे। इसके बाद उन्हें बताएंगे कि वह किस ब्रीड का कुत्ता खरीदें। कुत्ते को पालने को लेकर क्या-क्या सावधानियां बरतनी हैं। सोसायटी में कुत्तों से सुरक्षा को लेकर लिफ्ट के बाहर लाइन बनाई गई है, जिससे लोग लाइन से बाहर खड़े हों और लिफ्ट से निकलने के दौरान कुत्ते किसी को काट न सकें।

कुत्तों को घुमाने की जगह चिह्नित की

आरेंज काउंटी सोसायटी में मंगलवार को बेसमेंट में एक व्यक्ति अपना पालतू कुत्ता घुमा रहा था। इस दौरान कुत्ते ने कार चालक पर छपट्टा मारा, लेकिन कार चालक बच गया। कार चालक ने एओए पदाधिकारियों से इसकी शिकायत की। एओए पदाधिकारियों ने कुत्ता घुमा रहे व्यक्ति को चेतावनी दी कि ऐसी लापरवाही भविष्य में न हो।

सोसायटी के आर्मी से सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर सुनील कपूर ने बताया कि लोगों से अपील की गई है कि कुत्ते के मुंह पर मजल पहनाकर ही घर से बाहर निकालें। इससे कुत्ता कोई गंदी चीज नहीं खाएगा। साथ ही कुत्ता किसी को काट नहीं पाएगा। सोसायटी के अंदर कुत्ते को घुमाने पर रोक लगाई गई है। सोसायटी के बाहर चार दीवारी के किनारे की जगह कुत्तों को घुमाने के लिए निश्चित की गई है।

Edited By: Versha Singh