जागरण संवाददाता गाजियाबाद : पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम ने ऐसे उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी योजना शुरू की है, जिनका बिल एक साथ अधिक रकम में आ जाता है और वह उसे भरने में नाकाम रहते हैं। विभाग ने बढ़े हुए बिल को किस्तों में जमा करने की स्कीम घरेलू उपभोक्ताओं के लिए लागू की है, जिससे उन्हें एक बड़ी राहत मिलेगी। विभाग की आसान किस्त योजना से उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी, जिसमें वह हजारों रुपये के बिल को कई बार में दे सकेंगे। हालांकि बिजली विभाग की यह योजना फिलहाल सीमित अवधि तक रहेगी, जोकि बाद में आगे बढ़ सकती है। वहीं, अब तक एक साथ बिल जमा नहीं करने वाले उपभोक्ताओं पर विभागीय अधिकारी कार्रवाई करते हुए उनके घरों का कनेक्शन तक काट देते थे।

बिजली विभाग के अधिकारियों का कहना है कि विभाग का शहर में रहने वाले घरेलू उपभोक्ताओं पर करीब 25 करोड़ रुपये बकाया है, जबकि देहात क्षेत्र में उपभोक्ताओं पर करीब 50 करोड़ रुपये बकाया है। विभाग ने राजस्व वसूलने के लिए आसान किस्त योजना लागू की है। मुख्य अभियंता आर के राणा ने बताया कि इस योजना के तहत तीन हजार रुपये से अधिक के बकायेदार उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। इसमें शहर क्षेत्र के लोग 12 व देहात क्षेत्र के लोग 24 किस्तों में अपना बिजली का बिल जमा कर सकते हैं। इस योजना का ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। यह योजना 11 नवंबर से शुरू होगी जोकि 31 दिसंबर तक चलेगी। उन्होंने बताया कि उपभोक्ता अपने पास में बने खंड व उपखंड कार्यालय और जन सुविधा केंद्र पर जाकर बिल जमा कर सकते हैं। इस योजना के तहत एक से चार किलोवाट तक के घरेलू उपभोक्ताओं को फायदा होगा। इससे ऊपर के मीटर धारक उपभोक्ताओं को इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा।

एक साथ बिल जमा नहीं करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं के लिए शासन ने आसान किस्त योजना लागू की है। जोकि सोमवार से शुरू होगी। इसके तहत सभी बिजली घरों में बिल जमा कराए जाएंगे। सभी अधिकारियों को इस योजना के बारे में निर्देश दे दिए गए हैं। वहीं, तीन हजार से अधिक के बकायदार इस योजना का लाभ ले सकेंगे। इस योजना के तहत उपभोक्ता अपना पंजीकरण भी करा सकते हैं।

- आरके राणा, मुख्य अभियंता, बिजली विभाग गाजियाबाद।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप