जासं, गाजियाबाद: विकास विभाग और समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुंचाने के लिए जिलाधिकारी ने 23 अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाकर न्याय पंचायतवार जिम्मेदारी सौंपी है। ऐसा पहली बार किया गया है। जिससे कि एक भी पात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ लेने से वंचित न रह सके। इसके साथ ही योजनाओं का प्रचार प्रसार करने का जिम्मा भी दिया गया है। जिससे कि ग्राम पंचायतों में रह रहे लोग जागरूक हो सकें। लाभार्थियों का सत्यापन भी करेंगे अधिकारी: जिलाधिकारी ने नामित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के लाभार्थियों का सत्यापन भी करें। जिससे कि अगर कोई अपात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ ले रहा है तो उसका नाम योजना से बाहर किया जा सके। न्याय पंचायत नामित नोडल अधिकारी

रावली कला जिला पंचायत राज अधिकारी

सुल्तानपुर वरिष्ठ परियोजना अधिकारी, नेडा

सरना मुरादनगर जिला कृषि अधिकारी

नंगला अक्खू खंड विकास अधिकारी, मुरादनगर

मोहम्मदपुर धैंदा सहायक निबंधक, सहकारिता

डिडौली भूमि संरक्षण अधिकारी

सौंदा सहायक निदेशक, मत्स्य विभाग

खिदौड़ा जिला गन्ना अधिकारी

डासना देहात जिला विकास अधिकारी

नाहल जिला दिव्यांगजन एवं सशक्तिकरण अधिकारी

जलालाबाद जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी

शाहपुर निज मोरटा जिला समाज कल्याण अधिकारी

नंगला फिरोजपुर मोहनपुर अपर मुख्य अधिकारी, जिला पंचायत

लोनी देहात उप निदेशक, कृषि प्रसार

चिरौड़ी जिला पूर्ति अधिकारी

मंडौला खंड विकास अधिकारी

औरंगाबाद रिस्तल जिला विद्यालय निरीक्षक

भोजपुर जिला आयुर्वेदिक अधिकारी

अतरौली परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण

बेगमाबाद बुढ़ाना खंड विकास अधिकारी, भोजपुर

तलहैटा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

कादराबाद जिला उद्यान अधिकारी

भदौला उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी

बयान विकास विभाग और समाज कल्याण विभाग की योजनाओं का लाभ प्रत्येक ग्राम पंचायत तक पहुंचाने और लाभार्थियों की संख्या बढ़ाने के लिए 23 नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। इससे योजनाओं का लाभ लेने से वंचित हो रहे लोगों को मदद मिलेगी। नोडल अधिकारी द्वारा किए गए कार्यों की प्रत्येक माह समीक्षा की जाएगी। - राकेश कुमार सिंह, जिलाधिकारी

Edited By: Jagran