जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : वसुंधरा, अर्थला व साहिबाबाद रेलवे अंडरपास में शाम होते ही अंधेरा पसर जाता है। बारिश के बाद अंडरपास में सड़क पर गड्ढे हो गए हैं। ऐसे में राहगीर हादसों शिकार हो रहे हैं। अंडरपास से जलनिकासी के माकूल व्यवस्था नहीं है। स्थानीय निवासियों ने नगर निगम में शिकायत कर स्ट्रीट लाइट लगाने और जलभराव की समस्या को खत्म कराने की मांग की है।

औद्योगिक क्षेत्र, राजेंद्र नगर, श्याम पार्क के लोग साहिबाबाद अंडरपास से होकर जीटी रोड पर जाते हैं। बारिश होने पर अंडरपास में पानी भर जाता है। इससे पानी में वाहन फंस जाते हैं। यह कई दिन तक पानी नहीं निकलता। इसके बाद लोगों को लंबी दूरी तय कर जीटी रोड पर जाना पड़ता है। वहीं वसुंधरा अंडरपास में बारिश के बाद जलभराव हो जाता है। बालाजी विहार के लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है। यहां भी बारिश के बाद गड्ढे हो गए हैं। अंधेरा होने से गड्ढे दिखाई नहीं देते हैं। इससे दोपहिया वाहन चालक अंडरपास में गिर जाते हैं। यही स्थिति अर्थला अंडरपास की भी है। वर्जन..

अंडरपास में बारिश के बाद मौत के गड्ढे बन गए हैं। स्ट्रीट लाइट भी नहीं है। रात में गड्ढे दिखाई नहीं देते। लोग हादसों का शिकार हो रहे हैं।

-ताराचंद, स्थानीय निवासी।

-------

बारिश होने पर कई दिन तक अंडरपास में पानी भरा रहता है। लोगों का निकलना बंद हो जाता है। लोग लंबी दूरी तय कर अपने घर पहुंचते हैं।

-अजीत वाल्मीकि, स्थानीय निवासी

--------

अंडरपास में अंधेरा होने की जानकारी मिली है। यहां लाइट लगाने की प्रक्रिया शुरू है। जल्द ही अंडरपास में उजाला हो जाएगा।

-राजकिशोर, पथ प्रकाश निरीक्षक।

Edited By: Jagran