जासं, गाजियाबाद: रिश्तेदारों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगा एसएसपी को शिकायत दी गई है।

मसूरी निवासी युवती ने बताया कि आठ अगस्त को वह दिल्ली निवासी बहन के पास भाई की बीमारी के लिए पैसे लेने जा रही थी। नया बस अड्डा पर सवारी का इंतजार करते समय रिश्तेदारी के तीन युवक आए और बात करने लगे। उसने भाई के बारे में बताया तो तीनों ने दो दिन बाद यहीं आकर रुपये ले जाने को कहा। 10 अगस्त को वह पहुंची तो आरोपित कार लेकर आए और आगे जाकर पैसे देने की बात कह पीड़िता को बिठा लिया। आरोपितों ने उसे कुछ सुंघाया और फिर सूनसान स्थान पर ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। जब होश आया तो वह सिहानी गेट थाने में थी। आरोप है कि पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने के बजाय उसे दो दिन थाने में रखा।

एसएचओ सिहानी गेट उमेश बहादुर सिंह ने बताया कि 11 जुलाई को युवती थाने आई थी। अपनी भाभी के भाइयों पर आरोप लगाए गए थे। दोनों पक्षों को बुलाया गया तो पता चला कि युवती व उसके भाई पर मेरठ के लिसाढ़ीगेट थाने में 11 जुलाई को दहेज का मुकदमा दर्ज है। दूसरे पक्ष ने रंजिश के कारण आरोप लगाने की बात कही। थाने में 3-4 घंटे दोनों पक्ष के लोगों ने बैठकर बात की और फिर लिखित समझौता किया। युवती उसी दिन अपने परिजनों संग लौट गई थी। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि सभी तथ्यों के आधार पर जांच कर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस