धनंजय वर्मा, साहिबाबाद (गाजियाबाद)

इंदिरापुरम स्थित केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) के जवानों ने 10 मार्च को स्थापना दिवस मनाने के लिए बृहस्पतिवार को फुल ड्रेस रिहर्सल किया। इस दौरान जवानों ने हैरतअंगेज कारनामे दिखाए। जवानों की फायर¨वग ने चंद मिनटों में ही बड़ी आग पर काबू पाने का कौशल तो दिखाया ही, पानी से हवा में तिरंगा बनाया तो दर्शकों की तालियां गूंज उठी। जवानों ने तलवारबाजी, लाठीबाजी का हुनर तो दिखाया ही, कराटे का प्रदर्शन कर बता दिया कि वह देश के दुश्मनों को निहत्थे भी ढेर कर सकते हैं।

49वें स्थापना दिवस पर गृहमंत्री राजनाथ ¨सह मुख्य अतिथि के रूप में रहेंगे। बृहस्पतिवार को सीआइएसएफ के एडिशनल डायरेक्टर जनरल आलोक कुमार पटेरिया के नेतृत्व में फुल ड्रेस रिहर्सल की गई। सुबह 9:30 बजे चार सौ से अधिक महिला और पुरुष जवानों ने कदम से कदम मिलाकर परेड की। वहीं, बैंड की धुन ने लोगों को मनमोह लिया। जवानों के एक समूह ने लाठी बाजी का हुनर दिखाया। वहीं, दूसरे समूह ने तलवारबाजी की, जिससे जवानों ने दिखाया कि वह अत्याधुनिक हथियारों से ही नहीं बल्कि पारंपरिक तरीके से भी जंग लड़ने में सक्षम हैं। अकेले जवान ने चार लोगों से तलवारबाजी की। वहीं, परेड में शामिल एक जवान तेज धूप की वजह से जमीन पर गिर गया। जवान को स्ट्रेचर से ले जाया गया।

सबाते कराटे का हुनर दिखाएंगी महिला कमांडो

देश की सुरक्षा करने वाले सीआइएसएफ जवानों ने फुल ड्रेस रिहर्सल में सबाते कराटे का प्रदर्शन किया। स्थापना दिवस पर मुख्य अतिथि के सामने महिला कमांडो सबाते कराटे का प्रदर्शन करेंगी। सीआइएसएफ अधिकारियों का कहना है कि पहली बार महिला ¨वग सबाते कराटे का डेमो करेंगी। इससे यह दिखाया जाएगा कि हथियारों से ही नहीं, निहत्थे भी देश के दुश्मनों को ढेर करने में सक्षम हैं।

आग बुझाने में महारथ हासिल

फुल ड्रेस रिहर्सल में सीआइएसएफ जवानों ने आग जैसी आपदा से निपटने का डेमो दिखाया। डेमों के दौरान ट्रांसफार्मर एलपीजी टैंक, कैमिकल टैंक व अन्य स्थानों पर आग लगने लगाई गई। मौके पर पहुंचे सीआइएसएफ जवानों ने फॉम टेंडर की मदद से चंद मिनटों में आग पर काबू पा लिया। आग बुझाने के बाद जवानों ने पाने के फुहारों से तिरंगा बनाया।

रिहर्सल में दिखी महिला शक्ति

महिला दिवस पर हुई रिहर्सल के हर करतब में महिलाओं ने पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाया। परेड में महिला कमांडो ने हुनर दिखाया। महिलाओं ने रस्सी से मलखंभ किया तो पुरुषों ने मलखंभ। स्थापना दिवस पर महिलाएं आग जैसी आपदा में राहत और बचाव कार्य और कराटे का भी डेमो दिखाएंगी। स्थापना दिवस के मौके पर सीआइएसएफ के 36 जवानों व अधिकारियों को उत्कृष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया जाएगा। 19 मार्च को सुबह 9:30 बजे से कार्यक्रम शुरु किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप