जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : कोरोना संक्रमण के मामले भले ही घट गए हों, लेकिन सावधानी अभी जरूरी है। सार्वजनिक स्थलों व बाजारों में हो रही लापरवाही तीसरी लहर को आमद दे सकती है। बाजारों में उमड़ती भीड़, शारीरिक दूरी का पालन न करना व मास्क न लगाना लोगों ने फिर से दिनचर्या में शामिल कर लिया है। शहर के तुराबनगर मार्केट में तो खरीदार और दुकानदार दोनों के चेहरों से मास्क गायब दिख रहे हैं। शारीरिक दूरी के नियम का उल्लंघन यहां साफ देखा जा सकता है।

कोरोना के मामले कम क्या हुए बाजार में खरीदारी करने आ रहे लोगों ने लापरवाही की हदें पार करना शुरू कर दिया है। कोरोना संक्रमण से बेफिक्र लोग शहर की व्यवस्तम तुराबनगर मार्केट में बिना कोविड नियमों का पालन किए जमकर खरीदारी कर रहे हैं। यहां ग्राहक तो ग्राहक, दुकानदार भी कोरोना को लेकर लापरवाह दिखे। एक वक्त जब कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर चरम पर थी, तब हर कोई इससे खौफजदा व सतर्क था। लोग पुलिस-प्रशासन के डर से चेहरे पर मास्क तो जरूर लगा रहे हैं, लेकिन अपने अंदर कोरोना जैसी बीमारी से बचाव को लेकर सतर्कता नहीं हैं। कई लोगों के मास्क भी नाक के नीचे लटके रहते हैं। दुकानों तथा बाजारों में पहले की तरह ही सामान की खरीद को लेकर आपाधापी मची रहती है। हालांकि तुराबनगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष रजनीश बंसल व्यापारियों से कोविड नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करने की बात कह रहे हैं, लेकिन देखने पर यहां व्यापारियों में कहीं जागरूकता कम ही नजर आई।

Edited By: Jagran