जासं, गाजियाबाद: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर दूसरे दिन रविवार को भी जिले में शांति व्यवस्था बनी रही। पुलिस और प्रशासन अलर्ट मोड पर रहा और डीएम डॉ. अजय शंकर पांडेय व एसएसपी सुधीर कुमार सिंह समेत सभी वरिष्ठ अधिकारी क्षेत्रों का जायजा लेते रहे। मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में पुलिस की टीमें गश्त करती रहीं, जबकि दंगा संभावित क्षेत्रों में भी रूटमार्च किया गया।

अयोध्या फैसले को लेकर गाजियाबाद में शुक्रवार से ही पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी थी। एक कंपनी पीएसी समेत करीब 5500 पुलिसकर्मियों को जिले भर में तैनात किया गया है। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह व डीएम जगह-जगह जायजा लेने पहुंचे। इस दौरान ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों का एसएसपी व डीएम ने हौसला बढ़ाया। इंस्पेक्टर व दारोगा से पूछताछ के साथ अधिकारियों ने सिपाही व हेड कांस्टेबलों से बातचीत की और इलाके के बारे में जाना। शांति व्यवस्था बनाए रखने में योगदान की सराहना कर मुस्तैदी से ड्यूटी करने के निर्देश भी दिए। एसएसपी ने बताया कि शनिवार की ही तरह रविवार को भी जिले के सभी अति संवेदनशील और संवेदनशील स्थानों पर कड़ी चौकसी रखी गई। जिले में कहीं से भी कोई अप्रिय सूचना नहीं मिली।

एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन ने रविवार को रेड स्कीम के तहत दंगा संभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। उन्होंने इसके तहत की गई तैयारी की समीक्षा भी की। बताया कि जिले में हालात सामान्य हैं। पुलिस के पुख्ता इंतजाम हैं और एलआइयू के साथ मुखबिर तंत्र सक्रिय है। रेलवे इंटेलिजेंस और खुफिया विभाग से सभी सूचनाओं का आदान प्रदान किया जा रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप