जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद : पहले सीसीटीवी और अब वॉयस रिकॉर्डर। जी हां इन दोनों के बिना अब यूपी बोर्ड परीक्षा में किसी भी स्कूल को केंद्र नहीं बनाया जाएगा। निर्देश के बाद से परीक्षा केंद्र बनवाने की लाइन में लगे स्कूल संचालकों में खलबली मच गई है। वे उक्त व्यवस्था को लेकर दौड़भाग करने लगे हैं।

सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद भी वर्ष 2018 में कई परीक्षा केंद्रों पर नकल हुई। ठेकेदारों ने फायदा उठाया इन कैमरों में वॉयस रिकॉर्डिग की व्यवस्था न होने का। प्रशासन को चकमा देने के लिए शिक्षक कैमरे की तरफ पीठ कर खड़े होने के बाद बोलकर नकल कराते थे।

शासन ने इस बार व्यवस्था बदलने की तैयारी कर ली है। सोमवार को शिक्षा मंत्री ने वीडियो कांफ्रें¨सग में निर्देश दिए कि हर परीक्षा केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे के साथ वॉयस रिकॉर्डर जरूरी है। विभाग ने भी आदेश जारी कर दिए। इसके बाद स्कूल संचालक मंगलवार तक करीब दो दर्जन संचालकों ने वॉयस रिकॉर्डर लगवाने की सूचना सौंप दी है। - यह होनी चाहिए व्यवस्था

* सीसीटीवी कैमरे होने चाहिए।

* परीक्षा कक्ष में वॉयस रिकॉर्डर हो।

* स्कूल में अग्निशमन यंत्र हों।

* सड़क से निकटतम दूरी पर हो। 'जिस स्कूल में सीसीटीवी के साथ वॉयस रिकॉर्डर नहीं होगा, वह केंद्र नहीं बनेगा। आदेश जारी कर दिए हैं। स्कूल 15 तक वॉयस रिकॉर्डर लगवाने का प्रमाण सौंपें।'

- रीतू गोयल

जिला विद्यालय निरीक्षक

फीरोजाबाद

Posted By: Jagran