जेएनएन, फीरोजाबाद : स्वच्छता को लेकर निगम में खूब अभियान चले। होर्डिंग लगाए गए तो खर्चा भी कम नहीं हुआ, लेकिन इस सबके बाद भी निगम प्रशासन ओडीएफ के मामले में भी शहर को स्वच्छ नहीं दिखा सका। वहीं बगैर खर्च एवं तामझाम के नगर पालिका परिषद शिकोहाबाद ने स्वच्छ सर्वेक्षण में कम से कम जिले में तो बाजी मार ली। शिकोहाबाद को जिले में पहली रैंक मिली है तो फीरोजाबाद नगर निगम की जिले में चौथी रैंक है।

सरकार द्वारा कराए गए सर्वेक्षण के आधार पर रिपोर्ट जारी हो गई है। शिकोहाबाद सबसे ज्यादा स्कोर 1709.03 के आधार पर जिले में पहले स्थान पर है तो राष्ट्रीय स्तर पर 292 वीं रैंक है। फीरोजाबाद नगर निगम 1172.94 स्कोर के साथ में राष्ट्रीय स्तर पर 404 वीं रैंक पर रहा है। जिले में भी निगम की स्थिति यह है कि नगर पालिकाओं तक से पिछड़ गया है। जिले में चौथे स्थान पर रहने वाले नगर निगम ने स्वच्छता के नाम पर काफी दिखावा किया। धनराशि भी खर्च की, लेकिन धरातल पर स्वच्छता के लिए कुछ खास नहीं हो सका।

शिकोहाबाद नगर पालिका जिले में पहले तो मंडल में दूसरे स्थान पर रही है। शिकोहाबाद पालिका की इस सफलता में नगर पालिकाध्यक्ष मुमताज बेगम, सभासद, पालिका अधिकारी और कर्मचारियों का सहयोग रहा है। पालिकाध्यक्ष ने कहा है कि डीएम नेहा शर्मा के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन से सफाई में हमने अच्छा प्रदर्शन किया। अब पालिका को मंडल व प्रदेश स्तर पर पहले स्थान पर पहुंचाने के लिए प्रयास किया जाएगा।

अन्य पालिकाओं की स्थिति

-नगर पालिका परिषद सिरसागंज 1475 अंक के साथ दूसरे स्थान पर।

-नगर पालिका परिषद टूंडला 1469 अंक के साथ तीसरे स्थान पर।

-नगर पंचायत जसराना 1011 अंक के साथ पांचवे स्थान पर।

-नगर पंचायत फरिहा 883 अंक के साथ छठवें स्थान पर।

-नगर पंचायत एका 790 अंक के साथ सातवें स्थान पर।

टूंडला में गंदगी के ढेर, जनता परेशान: पालिका प्रशासन स्वच्छ भारत मिशन को पलीता लगा रहा है। नगर में जगह-जगह पर गंदगी के ढेर लगे हैं। इसके चलते लोगों का राह निकलना भी मुश्किल है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत चल रहे अभियान टूंडला में कागजी साबित हो रहे हैं। नगर के स्टेशन रोड पर जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हैं। सफाईकर्मी गंदगी को सड़क किनारे फेंक देते हैं। गली मोहल्लों और मुख्य सड़क पर गंदगी होने से नगर वासियों में रोष है। नाले की सफाई करने के बाद सिल्ट को सड़कों पर डाल दिया जाता है। शहरवासियों ने चेतावनी दी है यदि साफ सफाई नहीं की गई तो मजबूरन आंदोलन किया जाएगा। मांग करने वालों में सोनू ¨सह, धर्मेन्द्र कुमार शर्मा, विवेक कुमार, सुमित कुमार, विवेक कुमार, पप्पी शर्मा, अनुपम शर्मा, हरेन्द्र कुमार, जगवीर ¨सह, रामवीर ¨सह, दिनेश कुमार, संजय ¨सह प्रमुख हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप