मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद: भतीजे अक्षय यादव के सामने चाचा शिवपाल यादव ने ताल ठोंक दी है। शुक्रवार को उन्होंने काफिले के साथ जिला मुख्यालय पहुंचकर नामांकन दाखिल किया। भीड़ के कारण हाईवे पर यातायात कुछ देर के लिए प्रभावित रहा। वहीं तकरार पर पुलिस ने समर्थकों को खदेड़ दिया।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव शिकोहाबाद से काफिले के साथ करीब दोपहर 12 बजे नामांकन करने जिला मुख्यालय पहुंचे। वहां समर्थकों की भीड़ भी मौजूद थी। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं पुत्र आदित्य यादव, जिलाध्यक्ष अजीम भाई, मीना राजपूत समेत अपने 20 प्रस्तावकों के साथ उन्होंने पहला बैरियर पार किया। हालांकि नामांकन कक्ष में एक बार में पांच लोगों को ही प्रवेश दिया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं डीएम सेल्वा कुमारी जे को उन्होंने एक-एक कर दो सेट में नामांकन पत्र दिए। इस दौरान उन्होंने चुनाव आचार संहिता का पालन करने की शपथ भी ली। नामांकन के समय शिवपाल यादव के समर्थकों की पुलिस से तकरार हो गई। धक्का लगने से एसपी प्रबल प्रताप सिंह की शिवपाल के सुरक्षा गार्ड एवं समर्थकों से कहासुनी हो गई। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखा सभी को खदेड़ दिया। इन्होंने खरीदे नामांकन पत्र

शनिवार को बहुजन मजदूर पार्टी से रामवीर सिंह और निर्दलीय राज किशोर तिवारी ने नामांकन फॉर्म लिए। 28 मार्च से शुरू हुई नामांकन प्रक्रिया में अब तक कुल 22 पर्चे लिए जा चुके हैं। अब सोमवार को नामांकन होंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप