फीरोजाबाद, जागरण संवाददाता। बकरीद की नमाज अदा होने के बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी (एएमयू) छात्र के बयान से माहौल गरमा दिया। छात्र एक न्यूज पोर्टल को बाइट दे रहा था, हालांकि अधिकारियों ने तत्परता दिखाते हुए उसे बयान देने से रोका और घर भेज दिया।

गांधी पार्क चौराहा पर सोमवार सुबह लगभग साढ़े आठ बजे नमाज अदा हो गई थी। लोग एक-दूसरे को गले मिल ईद की मुबारकबाद दे रहे थे। एक न्यूज पोर्टल इसी दौरान मौजूद लोगों से बाइट लेने लगा। एएमयू में एमएससी के छात्र मशरूरगंज निवासी मोहम्मद खालिद अपनी बात कहने लगा। सभी को बकरीद की मुबारकबाद देने के बाद उसने कहा कि देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। पीएम नरेंद्र मोदी ने दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया। देश में अन्य समस्याएं भी हैं। समस्याओं के बजाय सरकार का ध्यान धारा 370 और तीन तलाक की तरफ है। इससे देश की तरक्की नहीं हो सकती। वहां मौजूद सिटी मजिस्ट्रेट अजय तिवारी और सीओ सिटी इंदूप्रभा सिंह ने तत्काल युवक को बाइट देने से रोक दिया। अधिकारियों ने युवक को घर जाने को कहा। मौके की नजाकत भांपते हुए युवक को उसके साथी घर ले गए। सिटी मजिस्ट्रेट का कहना है कि युवक कश्मीर पर कोई बात कह रहा था, उसे रोकते हुए घर भिजवा दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप