फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। उसायनी के बाद जनपद में 132 केवी का नया विद्युत उपकेंद्र जल्द शुरू होने जा रहा है। करोड़ों के बजट से नारखी में तैयार उपकेंद्र से 200 से अधिक गांवों को निर्बाध आपूर्ति मिल सकेगी। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्र की आपूर्ति मजबूत होगी।

योगी सरकार में शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों को निर्बाध बिजली देने को नए बिजली घरों का तेजी से निर्माण कराया जा रहा है। उसायनी में 132 केवी विद्युत उपकेंद्र चालू होने से शहर व देहात क्षेत्र की आपूर्ति में काफी सुधार हुआ। 220 केवी आसफाबाद से विद्युत उपकेंद्र से सप्लाई बाधित होने पर शहरी सप्लाई को उसायनी उपकेंद्र से चालू करा दिया जाता है, जिससे उपभोक्ताओं को काफी राहत मिली है। अब विद्युत पारेषड खंड द्वारा नारखी में 132 केवी विद्युत उपकेंद्र का निर्माण की कवायद शुरू हुई। शासन से 25 करोड़ के प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद अगस्त-18 में बिजली घर का निर्माण कार्य शुरू हुआ, जो दस माह में पूरा हो चुका है। अधिशासी अभियंता वेद प्रकाश व एसडीओ हेमेंद्र सिंह ने टीम के साथ उपकेंद्र टेस्टिग शुरू कर दी है। बाक्स--

नए बिजलीघर से जुड़ेंगे यह सबस्टेशन

नारखी 132 केवी के नए बिजलीघर से पचोखरा, नारखी, रिजावली, नगला रामकुंवर, कोटला व हाथवंत सब स्टेशनों को जोड़ा जाएगा। ये अभी उसायनी और आसफाबाद बिजली घर से जुड़े थे। ओवर लोड के कारण शहर की आपूर्ति भी बाधित होती थी। बोले अफसर

नारखी में करीब 25 करोड़ से 132 केवी उपकेंद्र बनकर तैयार हो गया है। वर्तमान में इसकी टेस्टिग कराई जा रही है, जिससे सप्लाई चालू करते समय किसी तरह की समस्या न हो। माह के अंतिम सप्ताह तक सप्लाई चालू करने की योजना है।

वेद प्रकाश

अधिशासी अभियंता-ट्रांसमिशन

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप