फीरोजाबाद, जासं, शुक्रवार को जुमे की नमाज के दिन भारी संख्या में सुरक्षा बलों की जगह-जगह एहतियातन तैनाती से शहर के सभी संवेदनशील इलाके छावनी में तब्दील नजर आए। हिसा प्रभावित और मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में आगरा जोन के आइजी ए. सतीश गणेश समेत पुलिस प्रशासन के सभी अफसर भ्रमण करते रहे। इससे पहले आइजी ने एसपी सिटी कार्यालय में बैठक कर जनपद में कानून व्यवस्था की स्थिति का जायजा लिया। नमाज शांतिपूर्ण संपन्न हुई।

20 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ शहर के कई क्षेत्रों में हुई हिसा हुई थी, लेकिन अब माहौल पूरी तरह सामान्य है, लेकिन पुलिस प्रशासन ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है। एहतियातन शहर के सभी संवेदनशील इलाकों में पुलिस, पीएसी और सीआरपीएफ की तैनाती अब भी है, शुक्रवार को इसमें और इजाफा कर दिया गया गया। खासकर नगला बरी, जाटवपुरी, रसूलपुर से लेकर नालबंद क्षेत्र होते हुए इमामबाड़ा, हाजीपुरा समेत सभी संवेदनशील इलाकों में कड़ी सतर्कता रही। सुबह से ही इन क्षेत्रों में हर तरफ फोर्स नजर आ रहा था। डीएम चन्द्र विजय सिंह और एसएसपी सचिद्र पटेल सुबह से ही शहर में भ्रमण करते रहे। एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह नालबंद चौराहे पर फोर्स के साथ रहे। दोपहर में आए आइजी ए. सतीश गणेश ने पहले एसपी सिटी कार्यालय में बैठक कर कानून व्यवस्था की स्थिति की जानकारी ली, इसके बाद पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अफसरों के साथ शहर का भ्रमण किया। - अपने-अपने क्षेत्र की मस्जिदों में पढ़ी गई नमाज:

पुलिस प्रशासन की अपील पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक बार फिर अपने-अपने क्षेत्र की मस्जिदों में नमाज अदा की। इस कारण किसी खास मस्जिद में अधिक भीड़ एकत्रित नहीं होने पाई। दुकानें भी पूरे समय खुली रहीं।

15 जनवरी तक शहर में रहेगा बाहर का फोर्स:

एसएसपी सचिद्र पटेल ने बताया कि दूसरे जनपदों से आई पुलि फोर्स और पुलिस अधिकारी 15 जनवरी तक फीरोजाबाद में ही रहेंगे। इस दौरान एहतियातन जगह-जगह फोर्स की तैनाती बनी रहेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस