जेएनएन, फीरोजाबाद: सोमवार शाम से लापता पिता ने अपने दस माह के मासूम बेटे की गला घोंटकर हत्या कर दी और लाश को आगरा में फेंककर फरार हो गया। आगरा के एत्माद्दौला थाना की पुलिस बच्चे की शिनाख्त नहीं करा पाई। शाम को हत्यारे बाप की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया। फिलहाल आरोपित की आखिरी लोकेशन अलीगढ़ मिली है।

नगर के बल्देव रोड निवासी मोहित उर्फ मोंटी पुत्र राणा प्रताप बचपन से अपनी बुआ के घर रहता है। वह अपनी भाभी के नाम का राशन का कोटा चलाता है। सोमवार शाम वह अपने दस माह के बेटे लड्डू को लेकर पैदल टहलने के लिए निकला था। उसके बाद वह घर वापस लौटकर नहीं आया। देर रात तक घर न लौटने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी, लेकिन कोई जानकारी नहीं हो सकी। परिजनों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। देर रात्रि उसके मोबाइल की लोकेशन फीरोजाबाद के नजदीक हाईवे स्थित गांव नगला गोला के समीप मिली। पुलिस ने मौके पर जाकर खोजबीन की लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। परिजन अनहोनी

की आशंका जता रहे थे। इसके बाद देर रात परिजनों ने कॉल की तो उसके मोबाइल पर घंटी गई, लेकिन बात नहीं हुई। पुलिस ने लोकेशन खंगाली तो कठफोरी की मिली।

मंगलवार रात लगभग नौ बजे मोहित ने भतीजी ऐश्वर्य के मोबाइल पर फोन लगाकर बताया कि वह लड्डू को रामबाग छोड़ आया है। वह ¨जदा है या मुर्दा पता नहीं। इसके बाद कोहराम मच गया। परिजन पुलिस को सूचना देकर आगरा के एत्माद्दौला पहुंचे। बच्चे के फोटो देखकर शिनाख्त कर ली। टूंडला पुलिस आगरा के लिए रवाना हो गई। इंस्पेक्टर टूंडला बीडी पांडे ने बताया मोहित सनकी है। उसने बच्चे की हत्या क्यों की, उसके पकड़े जाने पर ही पता चलेगा।

Posted By: Jagran