संवाद सहयोगी, जसराना, (फीरोजाबाद) विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण पाढ़म सबस्टेशन से जुड़े 40 गांव आठ दिन से अंधकार में डूबे हुए हैं। हजारों ग्रामीण बिजली व पेयजल संकट से त्राहि-त्राहि कर रहे हैं। हर रोज शिकायत करने के बाद भी गावों में विद्युत आपूर्ति सुचारू नहीं हो सकी।

जनपद में एक सप्ताह पूर्व तेज आंधी व बरसात हुई थी, जिसमें पाढ़म क्षेत्र में दो दर्जन से अधिक पोल टूट गए थे। आठ दिन से सबस्टेशन से जुड़े कई गांव अंधकार में डूबे हुए हैं। गांव में बिजली न आने के कारण ग्रामीण खाने-पीने को भी तरस गए हैं। विद्युत विभाग की लापरवाही पर सोमवार को गांव मिलावली में ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों का कहना है कि नगला धीर, नगला गवे, सिरौला, मिलावली, उस्मानपुर, चनारी, खडी़त, नवलगढ़, नगला मोहकम सहित कई गांवों में आठ दिन से बिजली नहीं आ रही है। विभागीय अधिकारियों से कई बार शिकायत कर चुके हैं, परंतु कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

मौके पर रामबरन सिंह, हरपाल सिंह, सतपाल फौजी, जयकुमार सिंह, हरपाल सिंह, सोनू शर्मा, अजय कुमार, कन्हैयालाल, जयवीर सिंह, दिलीप सिंह, विनोद मौजूद थे।

---------------

पोल टूटने के कारण गांव में बिजली समस्या बनी हुई है। नए पोल लगवाकर उस्मानपुर, चनारी, खडीत जैसे कुछ गांवों में सप्लाई चालू करा दी है। शेष गांवों में दो दिन में सप्लाई सुचारू कराने का कार्य कराया जा रहा है।

हरेन्द्र सिंह-एसडीओ जसराना

-------------

रजावली सबस्टेशन से जुड़े गांवों में मिलेगी बेहतर आपूर्ति

पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना के अंतर्गत विद्युत विभाग द्वारा सोमवार को रजावली सबस्टेशन की क्षमता वृद्धि कराई गई। सबस्टेशन पर पांच एमवीए के स्थान पर 10 एमवीए का ट्रांसफार्मर स्थापित कराने का कार्य कराया गया। एक्सईएन टूंडला अजय गौतम व एसडीओ राजवीर सिंह की देखरेख में कर्मचारियों द्वारा क्रेन की मदद से पुराने ट्रांसफार्मर को हटाकर नया ट्रांसफार्मर रखवाया गया। एक्सईएन अजय गौतम ने बताया कि सबस्टेशन की क्षमतावृद्धि से 60 गांव के उपभोक्ताओं को बेहतर आपूर्ति मिल सकेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप