टूंडला (फीरोजाबाद): भय मुक्त समाज का नारा देने वाली भाजपा सरकार में दबंगों के डर से दो परिवार गांव छोड़ने पर विवश हो गए। पांच दिनों से बच्चों के साथ खानाबदोश जीवन जीने को विवश हैं। गांव वापस लौटने पर दबंग जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। दहशतजदां परिवार खुले आसमान के नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। शिकायत के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाही नहीं कर रही है।

मामला टूंडला थाना क्षेत्र के गांव नगला बन्ना स्थित काशीराम कॉलोनी का है। 22 जुलाई की शाम कुछ लोग कॉलोनी में शराब पीकर गाली गलौज कर रहे थे। इसका विरोध काशीराम कॉलोनी निवासी शकुंतला देवी पत्नी सुभाषचंद्र और तबस्सुम पत्नी सलीम ने किया। जिस पर उनके साथ मारपीट कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने थाने आने को कहा। आरोप है कि 23 जुलाई की सुबह वह मुकदमा दर्ज कराने थाने आ रहे तो दबंगों ने उन्हें रास्ते में रोक लिया और फिर से मारपीट की। किसी तरह वह थाने पहुंचे और दबंगों के विरुद्ध नामजद तहरीर दिए जाने पर कार्रवाई नहीं की। डर के कारण शकुंतला देवी, उनके पति सुभाषचंद्र पुत्र डोरीलाल, बेटा संजय, अमित व जयकिशन, इनके साथ ही सलीम व उनकी पत्नी तबस्सुम पांच दिनों से हाईवे रीजेंसी स्थित मार्केट में खुले आसमान के नीचे दिन काट रहे हैं। दोनों परिवार शनिवार को डीएम व एसएसपी से भी मिले। एसएसआइ अशोक कुमार का कहना है कि हमें जानकारी नहीं है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस