फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। बीते शुक्रवार की रात खैरगढ़ के साखिनी निवासी 17 वर्षीय रामरतन की हत्या बाइक सवारों युवकों ने मोबाइल लूट का विरोध करने पर की थी। हत्याकांड में शामिल बीटेक छात्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि मुख्य आरोपी फरार हैं।

एसपी ग्रामीण राजेश कुमार ने पत्रकार वार्ता में बताया कि शुक्रवार रात 12 वीं कक्षा का छात्र राम रतन पुत्र संतोष कुमार कश्यप साथी सूरज पुत्र प्रताप सिंह और आकाश के साथ दौड़ लगाने गया था। बाइक सवार युवकों ने मोबाइल छीनने के विरोध पर उसके सीने में गोली मार दी थी। आगरा में इलाज के दौरान राम रतन की मौत हो गई थी। एसपी ने बताया कि जांच में पहचान सामने आने पर पुलिस ने मंगलवार रात अवधेश पुत्र झब्बू सिंह, स्याऊरी खैरगढ़ को गिरफ्तार कर लिया। अवधेश मथुरा रोड स्थित आनंद इंजीनियरिग कॉलेज से सिविल में बीटेक कर रहा था। सेमेस्टर में फेल होने के बाद उसके पिता ने खेती में लगा दिया था। अवधेश ने बताया कि घटना के दिन शाम सात बजे वह हाथवंत मार्ग पर टहल रहा था। इस बीच दरिगापुर का दिनेश अपने एक साथी के साथ बाइक पर आया और उसे भी बैठा ले गया। मोबाइल छीनने को लेकर हाथापाई के बाद दिनेश ने उसे गोली मार दी। इसके बाद तीनों भाग निकले। पुलिस का कहना है कि दिनेश के खिलाफ लूट, हत्या आदि के कई मुकदमे हैं। - कुछ दिन पहले जेल से छूटकर आया था दिनेश:

एसपी राजेश कुमार ने बताया कि 21 जनवरी को दरगापुर में हुए लग्न समारोह में दिनेश के भाई अंकुल ने फायरिग कर दी थी। गोली लगने से लक्ष्मी नाम की लड़की मर गई थी। अंकुल होमगार्ड था। दिनेश फायरिग के वक्त उसके साथ था। हत्या के मामले में दिनेश और उसके भाई अंकुल, रवि और धर्मवीर को जेल भेजा गया। कुछ दिन पहले ही दिनेश जमानत पर छूटकर आया था, जबकि उसके भाई जेल में हैं। अंकुल को होमगार्ड की नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस