Move to Jagran APP

घर के अंदर से आ रही थी दुर्गंध, पड़ोसी ने बाथरूम का दरवाजा खोलकर देखा तो उड़े होश

घर में अकेली रह रही महिला का चार दिन तक शव घर के अंदर पड़ा रहा। दुर्गंध उठने पर महिला की मौत की जानकारी हुई। महिला के कोई संतान नहीं थी। इस कारण पति ने दूसरी शादी कर ली और इंदौर में रहने लगा। महिला यहां पर बकरी पालन कर अपना जीवन यापन कर रही थी। महिला की मौत की सूचना पर पति इंदौर से आया और अंतिम संस्कार किया।

By Akhilesh umrao Edited By: Abhishek Pandey Mon, 13 May 2024 11:16 AM (IST)
चार दिन तक घर में पड़ा रहा महिला का शव, दुर्गंध उठने पर हुई जानकारी

संवाद सूत्र, बकेवर। घर में अकेली रह रही 80 वर्षीय महिला का चार दिन तक शव घर के अंदर पड़ा रहा। दुर्गंध उठने पर महिला की मौत की जानकारी हुई। महिला के कोई संतान नहीं थी। इस कारण पति ने दूसरी शादी कर ली और इंदौर में रहने लगा। महिला यहां पर बकरी पालन कर अपना जीवन यापन कर रही थी। महिला की मौत की सूचना पर पति इंदौर से आया और अंतिम संस्कार किया।

बकेवर थाने के कपरिया ऊसर गांव निवासी राम सनेही निषाद की शादी राजा बेटी के साथ हुई थी। शादी के बाद दोनों से कोई संतान नहीं हुई, तो उसने दूसरी शादी कर ली। दूसरी पत्नी के साथ इंदौर में जाकर रहने लगा। महिला को काफी दिनों पहले एक लोहिया आवास मिला था। वह उसी में रहती थी, और बकरी पालन कर अपना जीवन यापन करने लगी।

बाथरूम में मिला शव

वृद्ध होने के कारण इधर काफी दिनों से पड़ोस में रहने वाली देवरानी छेद्दी और चुनबुदिया खाना देती थी। देवरानी ने बताया कि बुधवार को सुबह वृद्धा को देखा था। इसके बाद से वह नहीं दिखी। इस पर गांव के लोगों ने उसे काफी खोजा भी पर पता नहीं चला। जब शनिवार को घर से दुर्गंध उठने लगी तो घर के दरवाजे खोलकर देखा गया तो बाथरूम में महिला मृत हालत में पड़ी थी। इस पर महिला के पति को सूचना दी।

महिला का पति परिवार को गांव आया और महिला के शव का अंतिम संस्कार किया। पति ने बताया कि कई बार उससे चलने को कहा गया पर वह राजी नहीं हुई। वह गांव छोड़कर नहीं जाना चाह रही थी। थाना प्रभारी योगेश कुमार ने बताया कि महिला की मौत की सूचना किसी ने नहीं दी है।

इसे भी पढ़ें: अभी कमजोर नहीं हुआ कांग्रेस का किला..., राहुल की गैर मौजूदगी में भी स्मृति को मिल रही चुनौती; राजघरानों पर टिकी नजरें