जागरण संवाददाता, फतेहपुर : अवैध खनन रोकने की हाईटेक व्यवस्था में छेद कर माफिया मनमानी कर रहे हैं। किसानों की भूमिधरी से खनन के आरोप के बाद कोर्रा कंपोजिट खंड में यमुना नदी में बंधा लगाकर पानी से मौरंग खनन करने का मामला सामने आया है। नदी में बंधा लगाने की फोटो वायरल होने के बाद खनन विभाग ने जांच शुरू कर दी है।

कोर्रा कंपोजिट खंड में अवैध खनन करने की शिकायत पहले भी हो चुकी है। क्षेत्र के किसानों ने आरोप लगाया था कि भूमिधरी से मौरंग की निकासी की जा रही है। भूखंड का आवंटित बड़ा हिस्सा पानी से डूबा हुआ है, भूमिधरी से खनन करने के मामले में अभी जांच पूरी नहीं हुई कि जलधारा में बंधा लगाने की शिकायत आ गई। जिला खनन अधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि मौके पर जांच की गई है, जलधारा तो नहीं रोकी गई लेकिन पानी से खनन मिला है। कहा कि पट्टाधारक को एनजीटी के मानक के अनुसार खनन के निर्देश दिए गए हैं।

समस्याओं का हल न निकला तो किस्त भरना मुश्किल

अढ़ावल के पट्टाधारकों ने गांव के संकरे मार्ग में खनिज बैरियर लगाने का विरोध करते हुए कहा कि खदान आने-जाने वाले रास्ते में ग्रामीणी मवेशी बांधते है और बांस-बल्ली लगाकर अवरोध उत्पन्न कर रहे हैं। अढ़ावल गांव में खनन विभाग द्वारा बनाई गई सीसी रोड से आवागमन रोक दिया गया है। कहा कि दूसरे जिले से ओवरलोड मौरंग आ रही है, उसे नहीं रोका जा रहा। जिले में बैरियर लगा देने से डर के कारण कोई ट्रक की इंट्री नहीं हो रही। यही हाल रहा तो अगले माह की किस्त पट्टाधारक नहीं दे पाएंगे। जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर पट्टाधारकों ने पटटा सरेंडर करने की चेतावनी दी है। इस मौके पर राजेश पांडेय, शरद पाल आदि रहे।

आरटीओ प्रयागराज ने ओवरलोड मौरंग के चार ट्रक सीज कराए

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : जिला प्रशासन के लाख जतन के बाद भी ओवरलोड़ ट्रकों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। सोमवार को कानपुर से प्रयागराज जा रहे आरटीओ प्रयागराज आरके सिंह ने मुरादीपुर चौराहे पर मौरंग लदे चार ट्रकों को रोककर परिवहन अधिकारी से सीज करवा दिया। आरटीओ ने एआरटीओ प्रवर्तन सुरेंद्र यादव व परिवहन अधिकारी जेएन मिश्र को निर्देश दिए कि मार्गाें पर ओवरलोड न चलने पाएं, नहीं तो उन पर सख्त कार्रवाई करें। वहीं आटीओ प्रयागराज ने दफ्तर का आकर निरीक्षण किया। इनके आते ही दलाल खिसक लिए। आरटीओ सिंह दोपहर 2 बजे दफ्तर आए और दस्तावेजों की जांच-पड़ताल की। एआरटीओ प्रशासन अरविद त्रिवेदी ने अब तक ओवरलोड वाहनों पर हुई कार्रवाई और वसूल किए गए राजस्व की जानकारी दी। आरटीओ यहां दो घंटे रुकने के बाद प्रयागराज चले गए।

Edited By: Jagran