Move to Jagran APP

‘मौजूदा हालत में वोट जिहाद जरूरी’, सलमान खुर्शीद की भतीजी ने सपा प्रत्याशी की जनसभा में दिया बयान

अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र में इंडी गठबंधन प्रत्याशी के समर्थन में कांग्रेस व सपा के स्थानीय दिग्गजों की जनसभा में ‘वोट जिहाद’ का नया मुद्दा उठा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के मुख्य आतिथ्य में हुई सभा में उनकी भतीजी सपा नेता मारिया आलम खां ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के सामने मौजूदा हालत में वोट जिहाद जरूरी है।

By Jagran News Edited By: Shivam Yadav Published: Tue, 30 Apr 2024 06:00 AM (IST)Updated: Tue, 30 Apr 2024 06:00 AM (IST)
‘मौजूदा हालत में वोट जिहाद जरूरी’, सलमान खुर्शीद की भतीजी ने सपा प्रत्याशी की जनसभा में दिया बयान।

संवाद सहयोगी, कायमगंज। अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र में इंडी गठबंधन प्रत्याशी के समर्थन में कांग्रेस व सपा के स्थानीय दिग्गजों की जनसभा में ‘वोट जिहाद’ का नया मुद्दा उठा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के मुख्य आतिथ्य में हुई सभा में उनकी भतीजी सपा नेता मारिया आलम खां ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के सामने मौजूदा हालत में वोट जिहाद जरूरी है। 

मारिया ने कहा कि हर महिला हर पुरुष वोट जिहाद से संविधान बचाने को वोट जिहाद की जंग को लड़ेगा। उनके इस वक्तव्य पर वहां मौजूद लोगों ने खूब तालियां बजाई। मुहल्ला चिलांका में इमाम चौक के पास हुई हुई जनसभा में न कोई बैनर लगा था, न ही समाजवादी पार्टी व कांग्रेस का कोई झंडा ही लगा था। 

मुख्य अतिथि सलमान खुर्शीद ने कहा कि इस जनसभा में लोगों को सुनने के बाद यह तय हो गया कि आज से भाजपा के अंधेरे के दिन आ गए हैं और आप लोगों के उजाले के। इंडी गठबंधन से अपनी प्रत्याशिता पर वह बोले कि उन्हें यहां के अलावा कांग्रेस से अलीगढ़, कानपुर व अन्य क्षेत्रों से टिकट का आफर मिला, लेकिन उन्होंने साफ कह दिया कि मैं सलमान खुर्शीद फर्रुखाबाद वाला हूं व यहीं का रहूंगा। यह गठबंधन की पहली ऐसी जनसभा थी, जहां कांग्रेस व सपा के अधिकांश स्थानीय दिग्गजों का जमावड़ा रहा। इससे पहले दोनों दलों के कार्यकर्ता अलग-अलग से दिखते थे। 

संविधान की रक्षा के लिए वोट जिहाद: खुर्शीद

जनसभा में सपा नेत्री मारिया आलम द्वारा ‘वोट जिहाद’ शब्द का प्रयोग किए जाने पर पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने बताया कि आमतौर पर हम लोग ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करने से परहेज करते हैं, क्योंकि इसका शाब्दिक अर्थ गलत लगा लिया जाता है। जिहाद का मतलब किसी परिस्थिति से संघर्ष करने के लिए होता है। यही उनका मंतव्य रहा होगा कि संविधान की रक्षा के लिए वोट जिहाद किया जाए।

सभा में सलमान खुर्शीद के अलावा कांग्रेस की पूर्व विधायक लुईस खुर्शीद, प्रदेश महासचिव प्रकाश प्रधान, जिलाध्यक्ष शकुंतला देवी के अलावा जिला स्तरीय अनेक कांग्रेस नेता मौजूद रहे। 

वहीं सपा से प्रत्याशी डा. नवल किशोर शाक्य के अलावा प्रदेश सचिव अनूप वर्मा, जिलाध्यक्ष चंद्रपाल सिंह यादव, पूर्व विधायक प्रताप सिंह यादव, अजीत कठेरिया, रामप्रकाश कल्लू यादव सहित तमाम दिग्गज मंच पर एक साथ रहे।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.