जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह व पुलिस अधीक्षक डॉ.अनिल मिश्रा ने सिटी मजिस्ट्रेट रत्न प्रिया के साथ शनिवार को शहर कोतवाली व मऊदरवाजा थाने में आयोजित समाधान दिवस में समस्याएं सुनीं। कोतवाली के इज्जतघर गंदे होने के साथ ही जर्जर हालत में मिले। भोजनालय के निकट गंदगी के ढेर लगे थे। इस पर डीएम ने नाराजगी जताई।

जिलाधिकारी ने प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र दुबे को खस्ता हाल आवासीय भवन की मरम्मत और थाने में बेतरतीब खड़ी बाइकें ढंग से लगवाने के निर्देश दिए। मोहल्ला घेरशामू खां निवासी महिला ने पुत्री के गायब हो जाने की शिकायत की। चौकी इंचार्ज ने कहा कि वह सीडीआर निकलवा रहे हैं। पांचालघाट निवासी अजय कुमार ने भूमि पर कब्जा दिलाने की मांग की। कुल सात मामले आए, जिनमें जांच में कार्रवाई के आदेश दिए गए। दोनों अधिकारियों ने मऊदरवाजा थाने में भी कुछ देर रुककर समस्याएं सुनीं। वहां छह मामले आए, जिनमें एक का निस्तारण कर दिया गया। हिजामं जिलाध्यक्ष सुबोध मिश्रा ने अधिकारियों को प्रार्थनापत्र देकर शहर में सट्टा व अवैध शराब का कारोबार होने की शिकायत की।

कायमगंज कोतवाली में तहसीलदार भूपाल सिंह व कोतवाल डॉ.विनय प्रकाश राय की ने आठ प्रार्थना पत्रों पर सुनवाई की। जिसमें पांच का समाधान हो गया। थाना मेरापुर में अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह मौजूद रहे। नवाबगंज थाने में बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी डॉ.राजेश त्रिपाठी व थानाध्यक्ष वेदप्रकाश पांडेय ने समस्याएं सुनीं। मोहम्मदाबाद में 15 प्रार्थना पत्र आए। एक का निस्तारण किया गया, शेष के लिए टीमें भेजी गयीं। प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार व राजस्व कर्मी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस