Move to Jagran APP

स्टेशन से पहले अचानक रुकी ट्रेन, रेलवे टीम ने शुरू कर दी चेकिंग; कूदकर झाड़ियों से भागे यात्री- कई पकड़े गए

भारतीय रेलवे ने बुधवार को ट्रेनें रुकवाकर चेकिंग अभियान चलाया। सुरक्षा के लिए रेलवे के साथ आरपीएफ व जीआरपी के जवान भी मौजूद रहे। ट्रेनों के रुकते ही कुछ यात्री कूदकर झाड़ियों के बीच से होते हुए भाग निकले जबकि 15 यात्रियों को आरपीएफ ने पकड़ लिया। न्यायालय में पेश करने के बाद उन पर जुर्माना लगाया गया और छोड़ दिया गया।

By brajesh mishra Edited By: Abhishek Pandey Wed, 10 Jul 2024 01:08 PM (IST)
बाईपास नखासा के पास पैसेंजर ट्रेन रोककर बिना टिकट पकड़े यात्रियों को बस में बैठाती आरपीएफ। जागरण

जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद। रेलवे सचल दल ने अलग-अलग स्थानों पर ट्रेनें रुकवाकर चेकिंग अभियान चलाया। सुरक्षा में आरपीएफ व जीआरपी के जवान मौजूद थे। ट्रेनें रुकते ही कुछ यात्री कूदकर भाग गए। बिना टिकट मिले 15 यात्रियों को पकड़कर बस में बैठा लिया गया। शाम को उन्हें न्यायालय में पेश किया गया।  जुर्माना जमा करने पर उन्हें छोड़ दिया गया।

मऊदरवाजा थाना क्षेत्र में कायमगंज बाईपास पर नखासा के पास सुबह रेलवे सचल दल ने फोर्स के साथ घेराबंदी की। फर्रुखाबाद-कासगंज एवं कासगंज-शिकोहाबाद पैसेंजर ट्रेनों को रोका गया। जीआरपी व आरपीएफ के जवान रेलवे लाइन के दोनों तरफ घेराबंदी किए थे, लेकिन चेकिंग स्टाफ कम था। इसी का लाभ उठाकर ट्रेन रुकते ही बिना टिकट यात्री कूदकर भागने लगे।  फोर्स ने मौके से 15 लोगों को दबोच कर बस में बैठा लिया।

न्यायालय में पेश किए गए पकड़े गए यात्री

आरपीएफ थाना प्रभारी अंकुश ने बताया कि पकड़े गए यात्रियों को न्यायालय में पेश किया गया। जुर्माना जमा करने पर उन्हें छोड़ दिया गया। उन्होंने बताया कि चेकिंग अभियान जारी रहेगा। रेलवे लाइन पार कर दूसरे प्लेटफार्मों पर जाने वाले यात्रियों की भी सुरक्षा की दृष्टि से निगरानी कराई जाएगी। न मानने पर उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

इसे भी पढ़ें: कानपुर-वाराणसी समेत इन 12 बस अड्डों पर बनेंगे शॉपिंग मॉल-पार्किंग, खास सुविधाओं से होगा लैस